पहाड़ी से आया भारी मलबा, घरों और दुकानों में घुसा, घाट के ऊपरी क्षेत्र में बादल फटने की आशंका

पहाड़ी से आया भारी मलबा, घरों और दुकानों में घुसा, घाट के ऊपरी क्षेत्र में बादल फटने की आशंका
heavy-debris-from-the-hill-entered-into-houses-and-shops-there-is-a-possibility-of-cloudburst-in-the-upper-area-of-the-ghat

गोपेश्वर, 04 मई (हि.स.)। चमोली जिले में मंगलवार दोपहर बाद हुई भारी बरसात के चलते कई स्थानों पर मलबा आ गया। वहीं विकास खंड घाट मुख्यालय के बाजार के ऊपर की पहाड़ी से आया भारी मलबा घरों व दुकानों में घुस गया। इससे घाट में अफरा-तफरी मच गई। लोग घरों व दुकानों से बाहर निकल इधर-उधर भागने लगे। इस घटना में अभी तक किसी प्रकार के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है। आशंका जताई जा रही है कि घाट के ऊपरी बुग्याली क्षेत्रों में बादल फटने से यह मलबा बाजार तक पहुंचा है। आपदा प्रबंधन चमोली इस मामले की पूरी जानकारी जुटा रहा है। प्रशासन की टीम घटनास्थल का जायजा लेने के लिये रवाना हो गई है। स्थानीय निवासी नरेश मैंदोली, द्वारिका प्रसाद मैन्दोली और हरीश प्रसाद का कहना है कि घाट ब्लॉक मुख्यालय पर मंगलवार शाम चार बजे तेज गरज के साथ भारी बारिश शुरू हुई। करीब 10 मिनट बाद जोरदार आवाज के साथ घाट ब्लॉक मुख्यालय की बिनसर पहाड़ी से तीन धाराओं में मलबा और पानी घाट के बैंड बाजार में आ गया। बाजार के दूसरी ओर से लोगों का शोर सुनकर यहां मौजूद लोग अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर चले गये। करीब एक घंटे तक अफरा-तफरी का माहौल रहा। बैंड बाजार की करीब 15 दुकानों में मलबा घुसने से सामान खराब हो गया है। वहीं 20 से अधिक आवासीय भवनों में मलबा घुसने सामान पूरी तरह खराब हो गया है। हालांकि घटना में देरशाम तक किसी व्यक्ति के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। आपदा प्रबंधन अधिकारी चमोली नंदकिशोर जोशी ने बताया कि उन्हें घाट में पहाड़ी से आया मलबा दुकानों व घरों में घूसने की सूचना मिली है। घाट तहसील प्रशासन से इस मामले में जानकारी हासिल की जा रही है। अभी तक इस घटना में किसी तरह की जानमान के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। उन्होंने कहा कि अनुमान लगाया जा रहा है कि घाट के ऊपरी क्षेत्र में बादल फटने से यह स्थिति पैदा हुई है। हिन्दुस्थान समाचार/जगदीश/मुकुंद