हरेला पर्व के तहत पौधरोपण कर चिपको नेता स्व. चक्रधर तिवारी को दी श्रद्धांजिल
हरेला पर्व के तहत पौधरोपण कर चिपको नेता स्व. चक्रधर तिवारी को दी श्रद्धांजिल
उत्तराखंड

हरेला पर्व के तहत पौधरोपण कर चिपको नेता स्व. चक्रधर तिवारी को दी श्रद्धांजिल

news

गोपेश्वर,17 जुलाई (हि.स.)। राज्य मंत्री (दर्जा प्राप्त) व उत्तराखंड सरपंच सलाहकार परिषद के अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह बिष्ट ने हरेला कार्यक्रम के तहत ग्राम पंचायत टंगसा के वन पंचायत क्षेत्र में पौधरोपण किया और चिपको आंदोलन के नेता एवं पर्यावरणविद् स्व. चक्रधर तिवारी को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि वनों के संरक्षण एवं सवर्धन में स्व. चक्रधर तिवारी की अहम भूमिका रही है और हम सभी को उनका अनुसरण करना चाहिए। शुक्रवार को राइका इंटर काॅलेज टंगसा में क्षेत्रवासियों को संबोधित करते हुए मंत्री ने कहा कि देश इस समय कोरोना संक्रमण के कठिन दौर से गुजर रहा है। हम सबको अपने आप को सुरक्षित रखते हुए प्रकृति को भी संरक्षित करना होगा। ताकि हमारी आने वाली पीढ़ी सुरक्षित रह सके। उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की सरकार कोरोना संकट में भी बेहतर ढंग से विकास कार्याें को तेजी से आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है। पिछले चार महीनों में राज्य सरकार ने सामाजिक सुरक्षा के तहत सभी पेंशनरों के खातों में एडवांस में एकमुश्त पेंशन पहुंचाने का काम किया है। लाॅकडाउन में कोई भूखा न रहे इसके लिए पर्याप्त मात्रा में राशन वितरण किया। देश के विभिन्न राज्यों में फंसे प्रवासियों को वापस लाने का काम किया और अब प्रवासियों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना शुरू की गई है। त्रिस्तरीय पंचायतों को मजबूत करने के लिए राज्य सराकर ने 238 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया है। मंत्री ने बताया कि उत्तराखंड राज्य में 12168 वन पंचायतें हैं। इस अवसर पर टंगसा के वन पंचायत सरपंच ने पूरे ग्राम सभा की ओर से चार सूत्री मांग पत्र भी मंत्री को सौंपा। पौधारोपण के बाद राज्य मंत्री (दर्जा प्राप्त) वीरेन्द्र सिंह बिष्ट ने केदारानाथ वन प्रभाग के सभागार में चमोली वन विभाग के सभी अधिकारियों की बैठक लेते हुए वन पंचायतों में संचालित कार्याें की गहनता से समीक्षा की। उन्होंने सभी डिवीजनों की वन पंचायतों में ग्रीन इंडिया मिशन के तहत किए गए कार्याे, नमामि गंगे, चारा पत्ती, विकास, चालखाल निर्माण, वनीकरण, फायर वर्क, कैट प्लान, जायका, हरेला आदि के तहत संचालित कार्याें की समीक्षा की। इससे पूर्व राज्य मंत्री ने लोनिवि गेस्ट हाउस में प्रेस वार्ता करते हुए केन्द्र एवं राज्य सरकार की विकास नीतियों एवं योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के कुशल नेतृत्व में राज्य सरकार जीरो टाॅलरेन्स की नीति से लगातार आगे बढ़ रही है। तीन वर्ष में राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने एवं पारदर्शिता के साथ विकास कार्याें को पूरा करने का काम किया है। पहाड़ों से पलायन रोकने के लिए कारगर कदम उठाए गए हैं। आज रेल मार्ग, ऑलवेदर मोटर मार्ग सहित कई विकास कार्य तेज गति से आगे बढ़ रहे हैं। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट, जिला महिला मोर्चा की अध्यक्ष चन्द्र कला तिवारी, भेषज संघ अध्यक्ष सतेंद्र असवाल, कला पाठक, सुधा बिष्ट, डीएफओ केदारनाथ अमित कंवर, डीएफओ बदरीनाथ आशुतोष सिंह, डीएफओ अलकनंदा सर्वेश कुमार दुबे आदि मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/जगदीश-hindusthansamachar.in