government-should-cancel-devasthanam-board-dinesh-mohania
government-should-cancel-devasthanam-board-dinesh-mohania
उत्तराखंड

देवस्थानम बोर्ड को निरस्त करे सरकार : दिनेश मोहनिया

news

देहरादून, 02 अप्रैल (हि.स.)। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के केरल में देवस्थानम बोर्ड पर दिए ट्वीट पर पलटवार करते हुए ट्वीट कर योगी जी को नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि योगी जी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को भी बताएं कि देवस्थानम बोर्ड के नाम पर उत्तराखंड में भी हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ करना बन्द करें, अन्यथा प्रदेश की जनता आने वाले चुनाव में उनके उम्मीदवारों की जमानत जब्त करवा देगी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केरल को लेकर एक ट्वीट किया था जिसमें योगी आदित्यनाथ ने कहा था, "केरल में एलडीएफ की सरकार ने देवस्थानम बोर्ड के नाम पर यहां के हिंदुओं की आस्था के साथ खिलवाड़ करना अपना जन्मसिद्ध अधिकार समझ लिया है। केरल की जनता की भावनाओं और आस्था के साथ जो भी खिलवाड़ करे, उसकी जमानत जब्त होनी चाहिए। दिनेश मोहनिया ने कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में भाजपा ने धार्मिक स्थलों पर कब्जा करने के लिए देवस्थानम बोर्ड के रूप में एक ऐसी संस्था का गठन किया है, जिसने देवभूमि की धार्मिक मान्यताओं और परंपराओं को कानूनी शिकंजे में डालने का काम किया और इस बोर्ड के खिलाफ पुजारियों और तीर्थपुराहितों में भारी नाराजगी है। मोहनिया ने कहा कि बीजेपी मंदिरों और हिंदुओं के नाम पर राजनीति करती आई है और आज वही तीर्थ पुरोहित बीजेपी के इस निर्णय के खिलाफ लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही। इसलिए आम आदमी पार्टी की भाजपा सरकार से सीधी मांग है कि हमारे धार्मिक स्थलों को सरकार के शिकंजे से आजाद करो, हमारे रीती-रिवाजों से खिलवाड़ बंद कर देवस्थानम बोर्ड को निरस्त किया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/ साकेती /मुकुंद