गढ़वाल आयुक्त ने चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की, दिए जरूरी निर्देश

गढ़वाल आयुक्त ने चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की, दिए जरूरी निर्देश
garhwal-commissioner-reviewed-the-preparations-for-chardham-yatra-gave-necessary-instructions

ऋषिकेश, 24 मार्च (हि.स.)। आगामी मई में शुरू होने वाली चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर गढ़वाल मंडल आयुक्त रविनाथ रमन ने गढ़वाल के सभी जिला अधिकारियों सहित तमाम विभागों के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में सभी यात्रियों को दी जाने वाली सुविधाओं और तैयारियां पूरी करने का निर्देश दिया। बुधवार की दोपहर बाद ऋषिकेश नगर निगम में हुई बैठक में गढ़वाल मंडल आयुक्त रविनाथ रमन व पुलिस उपमहानिरीक्षक नीरु गर्ग ने चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की गई। बैठक में जिले के सभी अधिकारियों से जानकारियां प्राप्त की गईं। बैठक में यात्रियों को सुविधा या सोशल साइट्स, व्हाट्सएप पर की गई शिकायतों के निस्तारण के संबंध में जानकारी दी। वहीं जनपद स्तर पर जिला अधिकारियों के नियंत्रण में यात्रियों की सहायता के लिए यात्रा मार्ग के बाधित होने पर संबंधित जिलों में आपदा प्रबंधन विभाग के साथ यात्रियों के साथ चारधाम यात्रा कंट्रोल रूम के संचालन की व्यवस्था को भी दुरुस्त करने के लिए निर्देशित किया। बैठक के दौरान लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग ,निर्माण विभाग, बीआरओ ने अपने अपने क्षेत्र में सड़कों के निर्माण कार्यों का विवरण उपलब्ध कराया। पुलिस विभाग ने भी यात्रा मार्गों पर एसडीआरएफ, पुलिस बल, गोताखोर, ट्रैफिक पुलिस व्यवस्था आदि की रिपोर्ट प्रस्तुत की। बैठक के दौरान जिलाधिकारियों के लिए यात्रा मार्ग पर अवस्थित निकायों पंचायतों की सफाई व्यवस्था को वितरित किए जाने के लिए निर्देशित किया। तो वहीं सुलभ इंटरनेशनल शौचालयों की साफ-सफाई की व्यवस्था करने को कहा गया। बैठक में यात्रा प्रारंभ होने से पहले बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री व हेमकुंड साहिब में विद्युत आपूर्ति व्यवस्था करने और जनरेटर की व्यवस्था करने की जरूरत पर बल दिया गया। बैठक के दौरान गढ़वाल मंडल विकास निगम के अधिकारियों ने बताया कि यात्रा मार्ग पर स्थित आवास में उनकी पूर्व से मरम्मत किये जाने की व्यवस्था की गई है। तो वहीं श्री देवस्थानम बोर्ड उत्तराखंड के द्वारा चारों धामों में यात्रियों को दर्शन के बाद उन्हें दर्शन के बाद प्रसाद दिए जाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है। बैठक में केदारनाथ धाम में यात्रियों को बारिश से बचने के लिए शेड का निर्माण करने, श्रद्धालुओं के जूते चप्पलों को सुरक्षित रखने, ठंड से यात्रियों को बचाने के लिए अलाव की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए। बैठक में उत्तरकाशी चमोली, देहरादून व हरिद्वार के जिला अधिकारियों के साथ सभी विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे । हिन्दुस्थान समाचार /विक्रम

अन्य खबरें

No stories found.