ganga-worship-and-peace-lessons-for-the-peace-of-disaster
ganga-worship-and-peace-lessons-for-the-peace-of-disaster
उत्तराखंड

आपदा की शांति के लिए गंगा पूजन और शांति पाठ

news

हरिद्वार, 06 अप्रैल (हि.स.)। उत्तराखंड के जंगलों में भीषण आग लगने से हो रहे पर्यावरण, जीव-जंतुओं के भारी नुकसान पर सामाजिक कार्यकर्ताओं ने उत्तराखंड विकास मंच के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा के संयोजन में ललतारो घाट पर मां गंगा की पूजा-अर्चना व शांति पाठ कर अग्नि आपदा शांत होने और जंगलों में जीव जंतुओं की रक्षा के साथ पर्वतीय क्षेत्रों में निवास करने वाले सभी सुरक्षा के लिए प्रार्थना की। इसके साथ सामाजिक कार्यकर्ताओं से मांग की कि पर्यावरण, जीव जंतु की रक्षा के लिए स्थानीय प्रशासन व वन विभाग के साथ जन जागरण अभियान चलाकर आग बुझाने में स्थानीय स्तर पर सहयोग करें। इस अवसर पर संजय चोपड़ा ने कहाकि उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग को बुझाने के लिए स्थानीय प्रशासन के सहयोग के लिए स्थानीय क्षेत्र वासियों को आगे आना होगा। उन्होंने कहा कि अग्नि आपदा के नुकसान का मूल्यांकन कर जंगलों के नजदीक रह रहे कृषकों को उचित प्रबंधनों के साथ मौके पर ही मुआवजा राशि दिए जाने की योजना सरकार की ओर से शीघ्र ही संचालित करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले ही दुनिया कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से जूझ रही है, ऐसे में वन संप्रदा का जंगलों में आग लगने के कारण भारी नुकसान हो रहा है, इसी के दृष्टिगत आम जनता को सरकार के निर्देशों का पालन कर आग बुझाने के लिए स्वयं ही आगे आने की आवश्यकता है। अग्नि आपदा की शांति की प्रार्थना को लेकर मां गंगा की विशेष पूजा करने वालों में राजेंद्र पाल, मोहनलाल, जय सिंह बिष्ट, प्रभात चैधरी, वीरेंद्र कुमार विजय जोशी अशोक कुमार, ओमप्रकाश कालियान, छोटे लाल शर्मा, राम बहादुर कश्यप, पंडित नंदराम, रवि शर्मा, गोपाल कृष्ण, भूपेंद्र कुमार आदि शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद