पीपीपी मोड पर संचालित अस्‍पतालों में अव्‍यवस्‍था

पीपीपी मोड पर संचालित अस्‍पतालों में अव्‍यवस्‍था
disorder-in-the-hospitals-operated-on-ppp-mode

पौड़ी, 11 जून (हि.स.)। जनपद पौड़ी में पीपीपी मोड पर संचालित अस्पतालों में व्यवस्थाएं पटरी पर नहीं आ पा रही हैं। जिला चिकित्सालय से लेकर सीएचसी तक अवयवस्था हावी है। अभी कुछ दिन पूर्व जिला चिकित्सालय से रेफर मरीज का इलाज उप जिलाचकित्सालय श्रीनगर में किए जाने का मामला सामने आया था। इस मामले को लोग भूले ही नहीं थे कि अब पीपीपी मोड पर संचालित हो रहे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मोबाइल टार्च की रोशनी में कोविड टीकाकरण किए जाने का मामला सामने आया है। गुरुवार को पीपीपी मोड में संचालित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोविड टीकाकरण मोबाइल के टार्च की रोशनी में किया गया। पीपीपी मोड में संचालित सीएचसी पाबौ के प्रभारी अधिकारी अजय सिंह ने बताया कि बुधवार रात से ही क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति ठप होने के कारण इनवर्टर चार्ज नहीं हो पाया, जिसके चलते स्वास्थ्य कर्मियों को मोबाइल की रोशनी में टीकाकरण करना पड़ा। केंद्र में जनरेटर सुविधा जुटाए जाने के लिए उच्च अधिकारियों से पत्राचार किया गया है। यहां बता दे कि बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए जनपद के जिला चिकित्सालय सहित सीएचसी पाबौ व घंडियाल को पीपीपी मोड पर दिया गया है, लेकिन अक्सर यहां अव्यस्थाओं के मामले आते रहते हैं। सामाजिक पौड़ी बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक नमन चंदोला ने कहा कि सरकार ने अस्पतालों को व्यवसायियों के हाथ सौंप दिया है। पीपीपी मोड पर संचालित हो रहे अस्पतालों में अव्यवस्था हावी हैं। चंदोला ने कहा कि सरकार को यह निर्णय वापस लेना होगा। अगर ऐसा नहीं किया गया तो उन्हें आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ेगा। हिन्दुस्थान समाचार /राज