महाकुंभ का समापन, अब हरिद्वार में कोरोना कर्फ्यू

महाकुंभ का समापन, अब हरिद्वार में कोरोना कर्फ्यू
concluding-mahakumbh-now-corona-curfew-in-haridwar

हरिद्वार, 28 अप्रैल (हि.स.)। महाकुंभ की समाप्ति के बाद मंगलवार देररात डीएम सी रविशंकर की ओर से 3 मई तक हरिद्वार में कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया था। बुधवार को धर्मनगरी हरिद्वार में कर्फ्यू का असर साफ देखने को मिला। जहां विश्व प्रसिद्ध हरकी पैड़ी पर श्रद्धालुओं द्वारा आस्था की डुबकी लगाने के लिए भीड़ रहा करती थी, वहां आज बहुत कम संख्या में श्रद्धालु दिखे। अगर बाजारों की बात करें तो हरिद्वार जिलाधिकारी के निर्देशानुसार हरिद्वार के अपर रोड के बाजारों में खाने के होटल और रेस्टोरेंट्स को छूट दी गई। लेकिन कुल मिलाकर सभी दुकानें बंद दिखाई दीं। वहीं पुलिस द्वारा अनावश्यक घूमने वाले व्यक्तियों पर चालान की कार्रवाई भी की गई और कर्फ्यू का पालन करने के लिए कहा गया। हरिद्वार के बाजार में व्यपारियों द्वारा दुकानें बंद रखी गईं। इसके अलावा सड़कें सुनसान दिखाई दीं। अगर बात करें स्थानीय लोगों की तो वह कर्फ्यू को लेकर जागरूक दिखाई दिए। वहीं व्यापारी नेताओं का कहना है कि हरिद्वार में लॉकडाउन करने में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। व्यापारी और यात्री काफी परेशान रहे। हालांकि जिलाधिकारी का व्यापारियों ने धन्यवाद किया कि उन्होंने यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए खाने के रेस्टोरेंट्स और होटलों को छूट दी है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत