central-government-ignores-haridwar-kumbh-harish-rawat
central-government-ignores-haridwar-kumbh-harish-rawat
उत्तराखंड

केंद्र सरकार ने की हरिद्वार कुंभ की उपेक्षा : हरीश रावत

news

हरिद्वार, 27 जनवरी (हि.स.)। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आज हरिद्वार पहुंचकर हरकी पैड़ी पर गंगा स्नान कर पूजा अर्चना की। उन्होंने मां गंगा से त्रिवेंद्र रावत सरकार की बुद्धि शुद्धि की प्रार्थना करने के साथ कुंभ मेला के सकुशल व निर्विघ्न संपन्न होने की भी कामना की। पूर्व मुख्यमंत्री रावत बुधवार को हरिद्वार पहुंचे। सुबह गंगा स्नान व पूजा के बाद उन्होंने भाजपा की डबल इंजन सरकार पर हरिद्वार के कुंभ मेले की उपेक्षा करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में अर्ध कुंभ को ही महाकुंभ बनाकर केंद्र सरकार ने हजारों रुपये खर्च कर दिए, मगर हरिद्वार में यह 11 वर्ष बाद पढ़ने वाला महत्वपूर्ण महाकुंभ है, किंतु इसके लिए केंद्र सरकार ने 500 करोड़ रुपये भी नहीं दिए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा यह उत्तराखंड और हरिद्वार की उपेक्षा का उदाहरण है। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण भारत की नजर हरिद्वार कुंभ पर है लेकिन अभी तक कुंभ कहीं भी दिखाई नहीं दे रहा है। केवल रंगाई पुताई करके कुंभ के नाम पर कमाई कर लीपापोती की जा रही है। हरीश रावत का कहना है कि अखाड़े भारतीय संस्कृति के संवाहक और संत सनातन धर्म के संरक्षक हैं। संतों के द्वारा भी हरिद्वार कुंभ की उपेक्षा पर आवाज आनी चाहिए। हरिद्वार पहुंचने पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने हरीश रावत का जोरदार स्वागत किया। हरिद्वार दौरे के दौरान हरीश रावत अखाड़ों के संतां, महंतों व आश्रमों में पहुंचकर उनका आशीर्वाद भी लेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत-hindusthansamachar.in