buses-did-not-run-in-the-mountainous-areas-even-on-the-fourth-day
buses-did-not-run-in-the-mountainous-areas-even-on-the-fourth-day
उत्तराखंड

चौथे दिन भी पर्वतीय क्षेत्रों में नहीं चली बसें

news

ऋषिकेश, 04 मई (हि.स.)। उत्तराखंड सरकार के सभी वाहनों में 50 फीसदी यात्री क्षमता के साथ संचालित किए जाने के आदेश के विरोध में पर्वतीय मार्गों पर पिछले चार दिनों से एक भी वाहन अपने गंतव्य के लिए रवाना नहीं हुआ है । इससे यात्रियों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। वह कई गुना भाड़ा देकर अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं। संयुक्त रोटेशन व्यवस्था समिति के अध्यक्ष सुधीर राय का कहना है ,कि हरिद्वार -ऋषिकेश से प्रतिदिन पर्वतीय क्षेत्रों के लिए लगभग 150 बसें संचालित होती हैं । इनमें 1000 यात्री आवागमन करते हैं । सरकार द्वारा बसों में सवारियों की क्षमता 50फीसदी किए जाने के साथ भाड़े में वृद्धि नहीं की गई है। इसके विरोध में पिछले 4 दिनों से वाहन स्वामियों ने अपने वाहनों को खड़ा कर दिया है। अब सभी परिवहन कंपनियों के संचालकों ने निर्णय लिया है कि 25 मई को वह अपने वाहनों को सड़कों पर न उतार कर आरटीओ कार्यालय में अपने परमिट जमा कर खड़ा कर देंगे। हिन्दुस्थान समाचार/विक्रम