जयंती पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया डा. अंबेडकर को नमन

जयंती पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया डा. अंबेडकर को नमन
bjp-workers-salute-dr-ambedkar-on-jayanti

हरिद्वार, 14 अप्रैल (हि.स.)। भारत रत्न बाबा साहेब डा.भीमराव अंबेडकर की जयंती पर भाजपा जिला कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। पार्टी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जिला अध्यक्ष डा. जयपाल सिंह चौहान ने बताया कि बाबा साहब अद्वितीय प्रतिभा के धनी, मनीषी, विद्वान, दार्शनिक, समाजसेवी एवं उच्च व्यक्तित्व के स्वामी थे। तत्कालीन सामाजिक व्यवस्था में दलितों, वंचितों को अधिकार दिलाने के लिए उन्होंने कड़ा संघर्ष किया। डा. अंबेडकर का मानना था कि छीने हुए अधिकार भीख में नहीं मिलते, अधिकारों को वसूल करना पड़ता है। डा. अंबेडकर ने अमेरिका में एक सेमिनार में भारतीय जाति विभाजन पर अपना मशहूर शोध पत्र पढ़ा था। जिसमें उनके व्यक्तित्व की सर्वत्र प्रशंसा हुई। 26 नवंबर, 1949 को डा.अंबेडकर द्वारा रचित अनुच्छेद 315 पारित किया गया। बाबा साहब को मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया। डा.अंबेडकर का लक्ष्य सामाजिक असमानता दूर करके दलितों के मानव अधिकार को प्रतिष्ठित करना था। डा.जयपाल सिंह चौहान ने कहा कि भाजपा की केंद्र व प्रदेश की सरकार डा.भीमराव अंबेडकर के बताए मार्ग पर चलकर लोक कल्याण एवं राष्ट्र निर्माण के लिए लगातार कार्य कर रही है। केंद्र की सरकार हो या प्रदेश सरकार हो, सभी की योजनाओं का केंद्र बिंदु डा. अंबेडकर की नीतियों के आधार पर ही किया जा रहा है। सभी को डा.भीमराव अंबेडकर के व्यक्तित्व एवं कृतित्व से प्रेरणा लेकर देश और समाज के लिए उत्कृष्ट योगदान देने का काम करना चाहिए। जयंती पर यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धा होगी। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत