Basis of Gau, Ganga and Gayatri Sanatan Dharma: Hariballabh Das
Basis of Gau, Ganga and Gayatri Sanatan Dharma: Hariballabh Das
उत्तराखंड

गौ, गंगा और गायत्री सनातन धर्म के आधार: हरिबल्लभ दास

news

हरिद्वार, 14 जनवरी (हि.स.)। मकर संक्रांति पर श्री स्वामी नारायण आश्रम भूपतवाला में श्रीस्वामी नारायण दीन दयाल सेवा ट्रस्ट के तत्वावधान में नवनिर्मित प्रवेश द्वार का शुभारम्भ संतों की उपस्थिति और गौ पूजन के साथ हुआ। इस अवसर पर आश्रम के परमाध्यक्ष स्वामी हरिबल्लभ दास शास्त्री महाराज ने कहा कि गौ, गंगा और गायत्री सनातन हिन्दू धर्म का आधार हैं जिनमें समस्त तीर्थ और देवी-देवता समाहित हैं। उन्होंने बताया कि श्री स्वामी नारायण आश्रम के विस्तार के अन्तर्गत नवनिर्मित प्रवेश द्वार के लोकार्पण के अन्तर्गत सर्वप्रथम गंगाजल से भरे पवित्र कलशों को बटुक ब्राह्माणों द्वारा प्रवेश करवाया गया। तत्पश्चात गौ माता ने प्रवेश किया और उसके बाद संत-महंतजनों ने आश्रम में प्रवेश किया। उन्होंने कहा कि सनातन हिन्दू धर्म की यह मान्यता है कि गौ, गंगा और संत तीनों ईश्वर स्वरूप हैं। आश्रम के संचालक स्वामी आनन्द स्वरूप शास्त्री ने इस लोकार्पण समारोह में पधारे संतों का स्वागत करते हुए कहा कि स्वामी नारायण आश्रम भूपतवाला धर्म और सेवा का केन्द्र बिन्दु है जहां पर प्रतिदिन गौ सेवा, संत सेवा और दरिद्र नारायण की सेवा एक प्रकल्प के रूप में सदैव संचालित रहती है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत-hindusthansamachar.in