बैरागी कैंप से अतिक्रमण हटाकर मेला कार्य शुरू किए जाएंः रामशरण दास
बैरागी कैंप से अतिक्रमण हटाकर मेला कार्य शुरू किए जाएंः रामशरण दास
उत्तराखंड

बैरागी कैंप से अतिक्रमण हटाकर मेला कार्य शुरू किए जाएंः रामशरण दास

news

हरिद्वार, 30 जुलाई (हि.स.)। अखिल भारतीय श्री पंच निर्मोही अणी अखाड़े के सचिव महंत रामशरण दास महाराज ने बैरागी कैंप में कुंभ मेले के कार्य प्रारम्भ नहीं होने पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि कुंभ मेला कार्यो को लेकर प्रशासन द्वारा बैरागी कैंप क्षेत्र की उपेक्षा की जा रही है। कुंभ मेला प्रारम्भ होने में बहुत कम समय रह गया है। मगर प्रशासन बैरागी कैंप में मेला कार्यों को लेकर कतई चिंतित नहीं है। बिजली, पानी, पथ प्रकाश जैसे कार्य भी अभी तक शुरू नहीं कराए गए हैं। गुरुवार को उन्होंने कहा कि बैरागी कैंप क्षेत्र में अस्थाई निर्माण बड़ी समस्या है। जिसे तुरंत हटाया जाना चाहिए। साथ ही मेला कार्य शीघ्र प्रशासन को शुरू कराने चाहिए। महाकुंभ मेले में लाखों वैष्णव संप्रदाय के संत सम्मिलित होने हरिद्वार कूच करते हैं। ऐसे में समय रहते कार्य पूर्ण नहीं होने से संतों व श्रद्धालु भक्तों का कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। उन्होंने शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक व मेला अधिकारी दीपक रावत से मांग की है कि शीघ्र अतिशीघ्र अतिक्रमण हटाकर कुंभ मेले के कार्य प्रारम्भ किए जाएं। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला भारतीय संस्कृति की अद्भुत पहचान है और विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन है जो विश्व पटल पर भारत की एक अलग छाप छोड़ता है। महाकुंभ मेले का सफल आयोजन सभी का दायित्व है। प्रशासन को सभी अखाड़ों के संतों से समन्वय कर मेले के कार्य समय से पूरे करने चाहिए।साथ ही छावनियों के लिए समय रहते भूमि आवंटन की प्रक्रिया को पूर्ण किया जाए। ताकि वैष्णव संप्रदाय के संत अपनी छावनियां व कैंप लगा सकें। उन्होंने प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि बैरागी कैंप क्षेत्र से जल्द से जल्द अतिक्रमण हटाकर मेला भूमि को कब्जा मुक्त किया जाए। तीनों वैष्णव अखाड़ों के संतों की सुविधा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत-hindusthansamachar.in