नगर निगम कार्यालय में बैठक के दौरान गिरी कृत्रिम सीलिंग, बाल*बाल बचीं मेयर

नगर निगम कार्यालय में बैठक के दौरान गिरी कृत्रिम सीलिंग, बाल*बाल बचीं मेयर
artificial-sealing-fell-during-the-meeting-in-the-municipal-corporation-office-the-mayor-survived

हरिद्वार, 13 मई (हि.स.)। कार्यालय की कृत्रिम सीलिंग गिरने से हरिद्वार की मेयर अनीता शर्मा समय बाल-बाल बच गई। यह हादसा उस समय हुआ जब मेयर अपने कार्यालय में बैठक कर रही थीं। गुरुवार को मेयर अनीता शर्मा अपने कार्यालय में कोरोना संक्रमण को लेकर सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए अधिकारियों व पार्षदों के साथ बैठक कर रही थी। तभी उनके कार्यालय की कृत्रिम सीलिंग और लाइटें अचानक गिर गयीं। गनीमत रही कि किसी को भी चोट नहीं आयी। इस घटना के लिये मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा ने नगर विधायक व पूर्व शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक को कसूरवार ठहराया। उन्होंने कहा कि कौशिक पिछले 20 वर्ष से नगर के विधायक हैं औ साढ़े नौ साल से प्रदेश के शहरी विकास मंत्री रहे हैं। लेकिन सैकड़ों वर्ष पुरानी हरिद्वार नगर निगम की बिल्डिंग का जीर्णोद्धार कराया गया और न ही निगम को नया कार्यालय उपलब्ध कराया गया। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत

अन्य खबरें

No stories found.