allegations-of-neglect-of-standards-in-road-widening-departmental-officials-inspected
allegations-of-neglect-of-standards-in-road-widening-departmental-officials-inspected
उत्तराखंड

सड़क चौड़ीकरण में मानकों की अनदेखी का आरोप, विभागीय अधिकारियों ने किया निरीक्षण

news

गोपेश्वर, 08 अप्रैल (हि.स.)। चमोली जिले के सैन्य बाहुल्य गांव सवाड को जोड़ने वाले मोटर मार्ग देवाल-कांडेई-सवाड के चौड़ीकरण का कार्य मानकों के अनुरूप न होने के आरोपों के बाद कार्यदाई संस्था पीएमजीएसवाई कर्णप्रयाग डिवीजन के अभियंताओं ने पंचायत प्रतिनिधियों के साथ चौड़ीकरण के कार्य का गुरुवार को स्थलीय निरीक्षण कर ठेकेदार को आवश्यक निर्देश दिए। साथ ही निर्णय लिया गया कि जब तक चौड़ीकरण के तहत आपत्ति वाले बिंदुओं पर सड़क ठीक नहीं की जाती हैं, तब तक सड़क पर पीसी का कार्य शुरू नहीं किया जाएगा। दरअसल, 90 के दशक में करीब दस किलोमीटर देवाल-कांडेई-सवाड़ मोटर सड़क का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। तब इस सड़क पर यातायात कम होने के कारण सड़क को सिंगल लेन में काटा गया था किंतु बाद में इसी सड़क से किलोमीटर चार से घेस घाटी के चार गांवों के लिए कुनारबंड-घेस-हिमनी-बलाड़ मोटर सड़क के निर्माण के बाद से इस सड़क पर वाहनों की संख्या बढ़ जाने के कारण सड़क की चौड़ाई बढ़ाए जाने की क्षेत्रीय जनता की ओर से मांग की जाने लगी। जिस पर सरकार की ओर से पीएमजीएसवाई के तहत चौड़ीकरण एवं पीसी के कार्य की स्वीकृति दी गई। गत वर्ष से इस सड़क पर दस किलोमीटर सड़क पर चौड़ीकरण का कार्य शुरू हुआ। इसी बीच सवाड़ क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने मानक के अनुरूप सड़क पर डबल कटिंग का कार्य नहीं करने पर आपत्ति व्यक्त करते हुए पीएमजीएसवाई के आलाधिकारियों के साथ ही जिला प्रशासन एवं शासन को पत्र भेजकर कटिंग का कार्य मानकों के अनुरूप किए जाने की मांग की। इस पर पीएमजीएसवाई कर्णप्रयाग के सहायक अभियंता नीरज कांडपाल, अवर अभियंता प्रदीप सिंह पंवार व चंद्र भूषण, हिमांशु पांडे ने सवाड जिला पंचायत वार्ड की सदस्य आशा धपोला, सवाड की ग्राम प्रधान कंचना देवी, क्षेत्र पंचायत सदस्य दीक्षा देवी, आलम सिंह बिष्ट, प्रधान अरविंद भंडारी आदि ने सड़क का संयुक्त निरीक्षण किया। इसमें पीएमजीएसवाई के अभियंताओं ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि जब तक ठेकेदार की ओर से मानकों के अनुरूप कटिंग सहित अन्य जरूरी कार्य पूरे नहीं किए जाते हैं तब तक सड़क पर ठेकेदार को पीसी का कार्य शुरू नहीं करने दिया जाए। अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि सड़क पर किए गए अतिक्रमण को हटाने के लिए अतिक्रमणकारियों को नोटिस दे कर नियमानुसार उन्हें हटाया जाएगा। इस अवसर पर जिपंस आशा धपोला एवं प्रधान कंचना देवी ने कहा कि किसी भी हालत में इस सड़क के चौड़ीकरण, सुधारीकरण एवं डामरीकरण में नियमों की अनदेखी को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/जगदीश