भरभरा कर गिरा जर्जर मकान, बुजुर्ग महिला की मौत

भरभरा कर गिरा जर्जर मकान, बुजुर्ग महिला की मौत
a-dilapidated-house-collapses-elderly-woman-dies

- कीर्तिनगर के मलेथा गांव में हुआ हादसा, आधा घंटे पहले ही प्रधान से की गई थी मरम्मत कराने पर चर्चा श्रीनगर, 22 मई (हि.स.)। कीर्तिनगर तहसील के मलेथा गांव में शनिवार अपराह्न लगभग तीन बजे एक पुराना जर्जर आवासीय भवन भरभरा कर ढह गया। भवन के मलबे में दबने से बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। आधा घंटे पूर्व ही बुजुर्ग महिला ने प्रधान से अपने जीर्ण-शीर्ण मकान की मरम्मत कराए जाने का अनुरोध किया था। प्रधान ने मकान की मरम्मत न होने तक महिला को अन्यंत्र रहने को कहा था। इस बीच यह हादसा हो गया। पुलिस और ग्रामीणों ने मलबे से महिला को निकाला, लेकिन उसने दम तोड़ दिया। वृद्धा की पहचान रोशनी देवी (70) पत्नी मान सिंह के रूप में हुई है। मान सिंह की काफी पहले मौत हो चुकी है। बताया गया है कि रोशनी देवी सालों से इस मकान में अकेली रह रही थीं। उनके बेटे अपने परिवार सहित दूसरे भवन में रहते हैं। ग्राम प्रधान अंकित कुमार ने बताया कि शनिवार अपराह्न करीब ढाई बजे वह गांव में सेनेटाइजेशन कराने के साथ मास्क बंटवा रहे था। वह रोशनी देवी के घर भी गए थे। रोशनी देवी ने अपने जर्जर भवन को दिखाते हुए मरम्मत कराने का अनुरोध किया था। उन्होंने मकान की हालात ठीक होने तक अन्य किसी मकान में रहने के लिए कहा था। इस दौरान ग्राम प्रधान ने राजस्व विभाग को दिखाने के लिए प्रमाण के तौर पर रोशनी देवी के मकान की फोटो भी ली थी। फोटो लेकर वह घर ही पहुंचे थे कि उन्हें सूचना मिली की मकान ढह गया है। ग्रामीणों ने बताया कि हादसे के वक्त बुजुर्ग महिला घर के अंदर ही थी। वह मलबे में दब गई। कोतवाल रविंद्र यादव ने बताया कि मलबे से बाहर निकाला गया पर वह दम तोड़ चुकी थी। उन्होने बताया कि भवन काफी पुराना था। बारिश के बाद धूप आने से भवन ध्वस्त हो गया। हिन्दुस्थान समाचार /राज