रोजगार पर शोर मचाने वाली कांग्रेस अपने कार्यकाल देखे : कैंथोला
रोजगार पर शोर मचाने वाली कांग्रेस अपने कार्यकाल देखे : कैंथोला
उत्तराखंड

रोजगार पर शोर मचाने वाली कांग्रेस अपने कार्यकाल देखे : कैंथोला

news

देहरादून, 16 सितम्बर (हिस)। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता बिपिन कैंथोला ने बुधवार को जारी बयान में रोजगार के नाम पर हल्ला मचाने वाली कांग्रेस को पहले अपने गिरेबां में भी झांकने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि जनता सब जानती है। वह कांग्रेस नेताओं के बरगलाने पर नहीं आएगी।राज्य में दस साल राज करने वाली कांग्रेस ने कितने युवाओं को रोजगार दिया, सबके सामने है। इसके विपरीत त्रिवेंद्र सरकार की पहली प्राथमिकता सभी को रोजगार और स्वरोजगार देने की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अनलॉक के बाद तेजी से रोजगार को पटरी पर लाने के गंभीर प्रयास शुरू किए हैं। इस दौरान दूसरे प्रदेशों से करीब साढ़े चार लाख से अधिक उत्तराखंडी भाई-बहन वापस लौटे हैं। सरकार ने इनके रोजगार और स्वरोजगार के लिए अहम फैसले लिए हैं। कैंथोला ने कहा कि कांग्रेस राज में राज्य में 1000 डॉक्टर थे। डबल इंजन की सरकार आने के बाद, 2700 डॉक्टर हो गए है। पूरे प्रदेश में केवल तीन जिलों में आईसीयू थे, आज सभी जिलों में आईसीयू की सुविधा है। कांग्रेस ने उपनल के जरिए असैनिक अभ्यर्थियों की भर्ती पर प्रतिबंध लगा दिया था। अब त्रिवेंद्र सरकार ने उपनल के जरिए मिलने वाले रोजगार को प्रदेश के सभी स्थानीय लोगों के लिए खोला है। उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने वर्षों से लंबित पड़े विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों के मामले को सुलझाया है। भाजपा सांसद, केद्रीय शिक्षा मंत्री व राज्य सरकार के प्रयासों से प्रदेश के 16500 शिक्षकों को न्याय दिलवाया गया है। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के जरिए तेजी से रोजगार की प्रक्रिया चल रही है। प्रदेश में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए वीर चन्द्र सिह गढ़वाली स्वरोजगार योजना में पहले 25 प्रतिशत छूट थी, अब भाजपा सरकार ने 50 प्रतिशत की छूट का प्रावधान किया है, जिससे अधिक से अधिक युवा स्वरोजगार के लिए आगे आ रहे हैं। कैंथोला ने कहा कि पिछले साढ़े तीन साल में उच्च शिक्षा में 877 सहायक प्राध्यापकों की नियुक्ति की गई है। आज सभी कालेजों में प्रधानाचार्य और पूरी फैकल्टी है। इंटर कालेज के प्रवक्ता के 1353 पदों, माध्यमिक स्तर के सहायक अध्यापक के 1875 व प्राथमिक स्तर के 1881 पदों पर नियुक्तियां की गईं। ऊर्जा विभाग के तीन निगमों में 371 पदों पर सीधी भर्तियां की गई। पिछले साढ़े तीन साल में त्रिवेंद्र सरकार ने नए 13484 औद्योगिक इकाइयों की स्थापना कर इनमें करीब 96 हजार लोगों को सीधा रोजगार दिया। कैंथोला ने कहा कि कोरोना काल में रोजागर खोकर प्रदेश वापस लौटे युवाओं व प्रदेश में रह रहे युवाओं के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना बनाई गई। 150 से ज्यादा कार्यों के जरिए स्वरोजगार की प्रक्रिया शुरू हो गई है। अब तक 1216 अभ्यर्थियों को 45 करोड़ रुपये लोन स्वीकृत किया जा चुका है। कांग्रेस को यह याद रखना चाहिए कि वह अगर किसी की ओर एक उंगली उठाती है तो बाकी की चार उंगली खुद उनसे ही सवाल पूछती हैं। कांग्रेस के कार्यकाल में भ्रष्टाचार चरम पर था। उत्तराखंड की जनता ने 2017 में कांग्रेस के आला नेताओं समेत पार्टी को सही आईना दिखाया था। अब 2022 में भी कांगेस को जनता फिर से 2017 वाला आईना दिखाने को तैयार है। हिन्दुस्थान समाचार/ साकेती/मुकुंद-hindusthansamachar.in