रेलवे निजीकरण का फैसला तत्काल वापस लिया जाएः सीटू
रेलवे निजीकरण का फैसला तत्काल वापस लिया जाएः सीटू
उत्तराखंड

रेलवे निजीकरण का फैसला तत्काल वापस लिया जाएः सीटू

news

देहरादून, 17 जुलाई (हि.स.)। सेन्टर आफ इण्डियन ट्रेड यूनियन्स(सीटू) के कार्यकर्ताओं द्वारा रेलवे के निजीकरण के विरोध में शुक्रवार को दून रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शन कर स्टेशन मास्टर के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया गया है। महामंत्री लेखराज के नेतृत्व में सौंपे गये ज्ञापन के माध्यम से कहा गया है कि सरकार द्वारा रेलवे सहित कई बड़े सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण किया जा रहा है। इस कड़ी में रेलवे जैसी सरकारी सार्वजनिक संस्थान को भी निजी हाथों में दिया जा रहा है। ज्ञापन में कहा गया है कि इसका खमियाजा जहां रेलवे के कर्मचारियों को भुगतना पड़ेगा, वहीं आम जनता को भी महंगा सफर तय करना होगा। इस निजीकरण के चलते माल भाड़े में भी वृद्धि होगी, जिसके चलते महंगाई की मार भी आम जनता को भुगतनी पड़ेगी। उन्होंने मांग पत्र के माध्यम से कहा है कि रेलवे के निजीकरण का फैसला तत्काल वापस लिया जाये। हिन्दुस्थान समाचार/ साकेती-hindusthansamachar.in