राममय हुई द्रोणनगरी, जश्न के उल्लास से सराबोर हुई देवभूमि
राममय हुई द्रोणनगरी, जश्न के उल्लास से सराबोर हुई देवभूमि
उत्तराखंड

राममय हुई द्रोणनगरी, जश्न के उल्लास से सराबोर हुई देवभूमि

news

देहरादून, 05 अगस्त (हि. स.)। अयोध्या में रामजन्मभूमि के शिलान्यास और भूमि पूजन के ऐतिहासिक दिन पर रामलला की खुशियों के जश्न और उल्लास के माहौल में देहरादून समेत पूरा उत्तराखंड भगवा रंग में डूबा रहा। शहरों से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों के मंदिरों-मठों को सजाया गया तो वहीं एक दूसरे का लोग मुंह मीठा कराकर धार्मिक आस्था और अपनी संस्कृति को विखेरते रहे। इस उत्सवी राम की भक्ति को शांति प्रिय संपन्न कराने को लेकर पुलिस प्रशासन डटा रहा। श्री राम के जयकारे से मंदिर, गली और घर में भक्तिमय माहौल गुंजायमान रहा। बुधवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के विविध संगठनों की ओर से शारिरीक दूरी के साथ राम मंदिर निर्माण के उत्सव को खुशनुमा माहौल में मनाया गया। आरएसएस के प्रांत कार्यालय पर क्षेत्र प्रचारक प्रमुख जगदीश, प्रांत प्रांत प्रचारक युद्ववीर, विभाग प्रचारक भगवती मौजूद रहे। संघ पदाधिकारियों ने नियमित दिनचर्या के साथ अयोध्या पूजन की लाइव को भी देखा। शहर में कार्यक्रम को लेकर महानगर प्रचारक विजय, महानगर कार्यवाह विशाल जिंदल, नगर प्रचारक पंकज सहित अन्य टोली श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के शिलान्यास को लेकर लोगों को घरों में दीप जलाने को प्रेरित करते रहे। इसके साथ ही शाम चार बजे से संघ मुख्यालय के बाहर खीर वितरण का कार्यक्रम शुरू हुआ। इसी तरह पूरे 17 नगर की सभी शाखाओं में कार्यक्रम आयोजित किये गए। विश्व संवाद केंद्र पर प्रांत सह प्रचार प्रमुख संजय के नेतृत्व में दीप जलाकर कार्यक्रम किया गया। द्रोणनगरी में टपकेश्वर मंदिर, डांटकाली और काली मंदिर के साथ सिद्ध पीठों में रामलला की आधारशिला रखे जाने के उत्सवी माहौल में प्रसाद वितरित किया गया। बधाई के साथ दीपावली का जश्न भी देखने को मिला। साथ ही घर-घर आस्था की भक्तिमय बयार सुबह से लेकर शाम तक बहती रही। मंदिर में हवन पूजा की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए भक्तजनों ने घंटा घड़ियाल बजाकर जयघोष किया। बड़े स्तर पर अलग अलग संस्थाओं की ओर से कार्यक्रम आयोजित किये गए। मंदिर में श्री राम का दरबार भी सजा रखा गया है । इस दौरान लोगों ने आतिशबाजी कर अपनी खुशी का इजहार किया। विहिप, बजरंग दल ने सवा क्विंटल लड्डू का लगाया भोग विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल की ओर से घंटा घर स्थित हनुमान मंदिर में सवा क्विंटल लड्डू का भोग लगाया गया। बजरंगदल विभाग संयोजक विकास वर्मा के नेतृत्व में पूजा अर्चना के पश्चात पल्टन बाजार से राम नाम कीर्तन का जाप करते धामावाला पीपल मंडी से होकर हनुमान चौक हनुमान मंदिर पर सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। इसके बाद मोती बाजार होते हुए हनुमान मंदिर पल्टन बाजार पर ही समापन हुआ। दून उद्योग व्यापार मंडल ने मिष्ठान वितरण के साथ लगाए ध्वज दून उद्योग व्यापार मण्डल भी इस ऐतिहासिक दिवस पर अपने सभी मंडल और इकाइयों के संग विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किया। प्रत्येक घरों एवं प्रतिष्ठानों पर भगवा झण्डा लहराने के साथ कम से कम पांच दीपक प्रज्वलित करने व मिष्ठान वितरण कर खुशियां मनाई गईं। दून उद्योग व्यापार मण्डल के संरक्षक अनिल गोयल, अध्यक्ष विपिन नागलिया, कार्यकारी अध्यक्ष दून उद्योग व्यापार मण्डल सिद्धार्थ उमेश अग्रवाल, महामंत्री सुनील मैंसोन के नेतृत्व में शहर के लगभग 50 स्थानों पर दीपोत्सव के साथ मिष्ठान वितरण किया गया। मीडिया प्रभारी देवेंद्र ढल्ला ने बताया कि दर्शानी गेट बाबूगंज व्यापार मंडल बाज़ार में भगवा झंडे, पटाखों एवं सवा मन लड्डू का वितरण और हाथीबड़कला व्यापार मण्डल द्वारा 501 दीप जलाकर आतिशबाजी की गई। तत्पश्चात हलवा, लड्डू का प्रसाद वितरण कर ढोल नगाड़ों व गुलाल के साथ उत्सव मानाया गया। इसके अलावा प्रेमनगर व्यापार मंडल, हनुमान चौक, पीपल मंडी में हनुमान मंदिर पर दीप प्रज्वलन कर ढोल वादन कर जश्न मनाएंगे। बंजारावाला हलवा, तिलक रोड व्यापार मंडल पर बड़ी स्क्रीन लगाकर अयोध्या से कार्यक्रम का लाइव टेलीकास्ट दिखाया गया। पल्टन बाजार, जंगलम शिवालय की ओर से भी लड्डू बांटे गए। डीआईजी के नेतृत्व में सुरक्षा रही चौबंद डीआईजी अरुण मोहन जोशी के निर्देशन में दून में सुरक्षा के चाक-चौबंद व्यस्थाएं की गई थी। शहर में जहां भी कार्यक्रम हुए वहां पर बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात रही। सुरक्षा की दृष्टि से पीएसी के साथ अन्य पुलिस बल और घुड़सवारों को तैनात किया गया था।सुरक्षा व्यवस्था को लेकर शहर में फ्लैग मार्च निकाल कर शांति बनाए रखने की अपील की गई थी। शहर में होने वाले कार्यक्रम के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए नगर क्षेत्र को पांच जोन 11 सेक्टर व 33 सब सेक्टर बांटा गया था। प्रत्येक जोन में प्रभारी अधिकारी के तौर पर पुलिस क्षेत्रधिकारी, सेक्टर में कोतवाल व थानाध्यक्ष, सब सेक्टरों में चौकी प्रभारी व एसआई रैंक के अधिकारी प्रभारी के तौर पर तैनात रहे। हिन्दुस्थान समाचार/राजेश-hindusthansamachar.in