यमुनाघाटी को पृथक जनपद बनाए जाने का प्रस्ताव पारित
यमुनाघाटी को पृथक जनपद बनाए जाने का प्रस्ताव पारित
उत्तराखंड

यमुनाघाटी को पृथक जनपद बनाए जाने का प्रस्ताव पारित

news

उत्तरकाशी, 21 नवम्बर (हि.स.)। नौगांव वीडीसी की बैठक में यमुनाघाटी को पृथक जनपद बनाए जाने का प्रस्ताव ध्वनि मत से पारित हो गया। ब्लॉक प्रमुख सरोज पंवार की अध्यक्षता में आयोजित वीडीसी बैठक में क्षेत्र पंचायत सदस्यों, ग्राम प्रधानों और जिला पंचायत सदस्यों ने क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों व अन्य विषयों पर चर्चा की। बैठक में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही व जिलास्तरीय अधिकारियों के उपस्थित न होने पर बहस हुई। जिला पंचायत सदस्य आनन्द राणा, दलवीर सिंह,पवन पंवार,ग्राम प्रधान मोल्डा देव प्रसाद बहुगुणा ने पौंटी मोल्डा सड़क को पलेठा रोड़ से जोड़ने, क्षेत्र पंचायत सदस्य प्रेम सिंह चौहान, शांति टम्टा, ग्राम प्रधान पौंटी विनोद जैंतवान,बलवंत सिंह, गीता डिमरी, सहित सदन में उपस्थित प्रतिनिधियों ने अपने अपने क्षेत्र की समस्याओं को प्रमुखता से रखा। बैठक में सिमलसारी क्षेत्र पंचायत सदस्य सुमित्रा अपने छह माह के बच्चे के साथ पहुंची। ब्लॉक प्रमुख सरोज पंवार ने उपस्थित अधिकारियों को सभी समस्याएं एक माह के भीतर समाधान करने के निर्देश दिए। बैठक शुरू होने से पूर्व उप जिलाधिकारी बडकोट चतर सिंह चौहान का ब्लॉक प्रमुख सरोज पंवार व परियोजना निदेशक का ज्येष्ठ प्रमुख किशन सिंह राणा ने गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया। बैठक में प्रमुख सरोज पंवार, ज्येष्ठ प्रमुख किशन राणा, कनिष्ठ प्रमुख दर्शनी नेगी, उप जिलाधिकारी बड़कोट चतर सिंह चौहान, पीएमजीएसवाई के अधिशाषी अभियंता आरपी चमोली, जल संस्थान के देवराज तोमर, स्वास्थ्य विभाग के रफी अहमद, प्रभारी खंड विकास अधिकारी शशि भूषण बिंजोला, वन विभाग के महेंद्र सिंह, कन्हैया बेलवाल, सरिता राणा आदि उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/ चिरंजीव /मुकुंद-hindusthansamachar.in