मुख्य सचिव ने किया टिहरी झील को विश्व पर्यटन केंद्र बनाने पर मंथन
मुख्य सचिव ने किया टिहरी झील को विश्व पर्यटन केंद्र बनाने पर मंथन
उत्तराखंड

मुख्य सचिव ने किया टिहरी झील को विश्व पर्यटन केंद्र बनाने पर मंथन

news

देहरादून, 07 सितम्बर (हि.स.)। मुख्य सचिव ओम प्रकाश की अध्यक्षता में सोमवार को सचिवालय में टिहरी जलाशय के चारों ओर प्रस्तावित रिंग रोड के संबंध में बैठक हुई। बैठक में मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने कहा कि मुख्यमंत्री की घोषणाओं में सम्मिलित यह एक महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट है। उन्होंने इस संबंध में फीजिबिलिटी स्टडी एवं वायबिलिटी स्टडी शीघ्र करवा कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि टिहरी झील को विश्वस्तरीय पर्यटन स्थल बनाने के लिए सभी विभागों को हरसम्भव प्रयास करने होंगे। बैठक में सचिव (पर्यटन) दिलीप जावलकर ने बताया कि टिहरी बांध जलाशय लगभग 42 वर्ग किलोमीटर में विस्तारित है। प्रस्तावित रिंग रोड की कुल लंबाई 234.60 किलोमीटर है। टिहरी झील को देखने के लिए वर्षभर देश-विदेश से पर्यटक आते हैं। रिंग रोड के निर्माण सहित जलाशय के चारों ओर पर्यटन विकास के लिए आवश्यक मूलभूत ढांचागत सुविधाओं के विकास से इस क्षेत्र के आसपास के कई गांव और आबादी क्षेत्र प्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होंगे। यह रिंग रोड भविष्य में पर्यटन को बढ़ावा देने और रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने में कारगर सिद्ध होगी। इस अवसर पर प्रमुख सचिव आनंद वर्द्धन, सचिव आर के सुधांशु, राधिका झा एवं सौजन्या भी उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकुंद-hindusthansamachar.in