भीमताल में मृत मिली दुर्लभतम श्रेणी की ‘जंगली बिल्ली’, आवारा कुत्तों ने बुरी तरह से नोंचा
भीमताल में मृत मिली दुर्लभतम श्रेणी की ‘जंगली बिल्ली’, आवारा कुत्तों ने बुरी तरह से नोंचा
उत्तराखंड

भीमताल में मृत मिली दुर्लभतम श्रेणी की ‘जंगली बिल्ली’, आवारा कुत्तों ने बुरी तरह से नोंचा

news

नैनीताल, 23 जुलाई (हि.स.)। भीमताल कस्बे में सामान्यतया 'जंगली बिल्ली’ कही जाने वाली ‘लैपर्ड कैट’ का शव आज सुबह मिला है। जंगली बिल्ली का शव शहर की ब्लॉक रोड पर बुरी तरह से नोंची हुई अवस्था में मिला है। माना जा रहा है कि वह रात्रि में किसी कारण भटकते हुए शहर में आ गई होगी और कुत्तों की पकड़ में आ गई होगी। राहगीरों ने इसकी सूचना वन विभाग के अधिकारियों को दी, जिन्होंने शव को कब्जे में ले लिया है। नैना रेंज की वनाधिकारी ममता चंद ने बताया कि लैपर्ड बाघ, गुलदार की तरह ही वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972, संशोधित 2006 के अंतर्गत अनुसूचि 1 यानी ‘दुर्लभतम’ श्रेणी में आती है। उल्लेखनीय है कि लैपर्ड कैट इन दिनों लॉक डाउन के दौरान नैनीताल शहर के आसपास यह काफी संख्या में आबादी क्षेत्र में देखी जा रही हैं। आबादी के पास रहने की वजह से यह कई बार सड़कों पर वाहनों की चपेट में आने से भी जान गंवा देती हैं। हिन्दुस्थान समाचार/नवीन जोशी-hindusthansamachar.in