फल एवं सब्जी विक्रेताओं से मारपीट करने वाले कर्मचारियों की जांच के लिये बनेगी जांच समिति
फल एवं सब्जी विक्रेताओं से मारपीट करने वाले कर्मचारियों की जांच के लिये बनेगी जांच समिति
उत्तराखंड

फल एवं सब्जी विक्रेताओं से मारपीट करने वाले कर्मचारियों की जांच के लिये बनेगी जांच समिति

news

नगर निगम की बोर्ड बैठक के दौरान व्यापार मंडल ने दिया धरना व्यापारियों से मारपीट करने वाले कर्मचारी को अवकाश पर भेजा ऋषिकेश, 30 जुलाई (हि.स.)। नगर उद्योग व्यापार मंडल के बैनर तले फल एवं सब्जी विक्रेता के साथ नगर निगम कर्मचारियों द्वारा की गई मारपीट के विरोध में बोर्ड बैठक के दौरान धरना दिया। धरना पर बैठे लोग दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे। गुरुवार को निरंकारी भवन में आयोजित नगर निगम की बोर्ड बैठक के दौरान व्यापारियों ने मारपीट करने वाले कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई किए जाने को लेकर दो घंटे का सांकेतिक रूप से धरना दिया गया। धरना का नेतृत्व उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष नरेश अग्रवाल ने किया। धरने के दौरान व्यापारियों ने कहा कि निगम के कर्मचारी अतिक्रमण के नाम पर व्यापारियों के साथ अभद्र व्यवहार ही नहीं,अपितु मारपीट भी करने पर उतारू हो रहे हैं। इससे व्यापारियों में निगम कर्मचारियों के खिलाफ रोष व्याप्त है। यदि इन पर निगम के अधिकारियों ने इन कर्मचारियों पर अंकुश नहीं लगाया गया, तो व्यापारी ऐसे कर्मचारियों का विरोध करेंगे। बताया गया है कि बोर्ड की बैठक में सब्जी विक्रेताओं के साथ हुई मारपीट के संबंध में जांच करने के लिये एक जांच कमेटी गठित की जाएगी। जो अपनी रिपोर्ट निगम अधिकारियों को प्रस्तुत करेगी। तब तक मारपीट करने वाले कर्मचारियों को अवकाश पर भेज दिया गया है। इसके बाद नगर उद्योग व्यापार मंडल ने अपना धरना स्थगित कर दिया। धरना देने वालों में ललित मोहन मिश्रा, एकांत गोयल, संजय व्यास, रवि जैन, मुकेश जाटव, मधु जोशी, राहुल अरोड़ा, राहुल शर्मा, संजय कालड़ा, प्रदीप गुप्ता, दीपक,अंशु अरोड़ा और मुशाफिर सहित काफी संख्या में सब्जी विक्रेता व व्यापारी मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार /विक्रम-hindusthansamachar.in