पेड़ों की अपने बच्चों की तरह करें देखभाल: गांववासी
पेड़ों की अपने बच्चों की तरह करें देखभाल: गांववासी
उत्तराखंड

पेड़ों की अपने बच्चों की तरह करें देखभाल: गांववासी

news

विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे लोगों को किया सम्मानित श्रीनगर (पौड़ी), 30 जुलाई (हि.स.)। डालियों का दगड़या संगठन की पहल व नाबार्ड देहरादून के सहयोग से गोस्तूगाड़ जलागम परियोजना के तहत चोरकंडी, मुसोली, एवं गोस्तु में मिश्रित प्रजाति के पौधों का सघन रोपण किया गया। इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले लोगों का सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री मोहन सिंह रावत गांववासी ने किया। उन्होंने कहा कि वृहद स्तर पर पौधरोपण कार्यक्रम बिना ग्रामीणों की भागीदारी के संभव नहीं था। उन्होंने लोगों से पेड़ों का संरक्षण अपने बच्चों की तरह करने की अपील की। डालियों का दगड़िया संगठन के सचिव प्रो. मोहन सिंह पंवार ने कहा गोस्तू जलागम क्षेत्र के कुल नौ गांवों में फलदार, चारा ईधन तथा औषधीय प्रजाति के पौधों का रोपण किसानों द्वारा किया जा रहा है। कार्यक्रम में पर्यावरण के क्षेत्र में कार्य कर रहे रूद्रप्रयाग के सतेंद्र भंडारी, पर्यावरण जनआंदोलन के लिए समीर रतूड़ी, सामाजिक कार्यों के लिए गिरीश पैन्यूली तथा गोस्तू गाड़ जलागम समिति की कांता देवी एवं जगमोहन रावत को सम्मानित किया गया। संचालन पर्वतीय विकास शोध केंद्र के नोडल अधिकारी डा. अरविंद दरमोड़ा ने किया। मौके पर आशाराम मंमगाई, डा.मनोज परमार, अखिलेश शुक्ल, गोविंद सिंह, कैलाश चंद्र आदि मौजूद रहे। हिंदुस्थान समाचार/एसके-hindusthansamachar.in