पीड़ित परिवार की रोजगार देने की गुहार
पीड़ित परिवार की रोजगार देने की गुहार
उत्तराखंड

पीड़ित परिवार की रोजगार देने की गुहार

news

नई टिहरी, 15 सितम्बर (हि.स.)। प्रतापनगर के कोरदी गांव में बीती चार सितंबर को खेतों में फसल काट रही बैशाखी देवी और उसके बेटे राजेश को भालू ने हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया था। दोनों की हालत नाजुक होने पर जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें हायर सेंटर रेफर कर दिया था। उपचार के बाद दोनों अब अपने घर आ गए हैं। मंगलवार को दर्जाधारी राज्य मंत्री अतर सिंह तोमर के नेतृत्व में पीड़ित मां-बेटा और ग्रामीण जिला मुख्यालय पहुंचे। राज्य मंत्री ने डीएम को बताया कि राजेश सिंह होटल में नौकरी करता था, लेकिन कोरोना महामारी के चलते वह बीते कुछ माह पूर्व अपने घर लौट आया था। बताया राजेश के परिवार की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है, उन्होंने डीएम से राजेश के परिवार की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए वन विभाग में रोजगार देने तथा भालू से भिड़कर अपनी मां की जान बचाने के लिए पुरस्कृत करने की भी मांग की। ज्ञापन देने वालों में जिपंस रीता राणा, हर्षमणी सेमवाल, मुरारी रांगड़, मनोज रमोला, सूरजपाल राणा आदि मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल/मुकुंद-hindusthansamachar.in