नैनीताल बैंक ने प्रस्तुत किया अपना नया बिजनेस मॉडल
नैनीताल बैंक ने प्रस्तुत किया अपना नया बिजनेस मॉडल
उत्तराखंड

नैनीताल बैंक ने प्रस्तुत किया अपना नया बिजनेस मॉडल

news

-पं. पंत की जयंती पर आयोजित की बैंक की 98वीं एजीएम नैनीताल, 10 सितम्बर (हि.स.)। प्रदेश के अपने इकलौते वाणिज्यिक बैंक-द नैनीताल बैंक लिमिटेड ने अपने संस्थापक भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत का 133वां जन्मदिवस उत्साह, उमंग एवं सादगी के साथ मनाया। इसी दौरान बैंक ने ऑनलाइन माध्यम से अपनी 98वीं एजीएम यानी वार्षिक साधारण सभा की बैठक भी आयोजित की। इस मौके पर बैंक के प्रधान कार्यालय में बैंक के अध्यक्ष दिनेश पंत ने पं. पंत की मूर्ति पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने पं. पंत के राष्ट्र प्रेम, स्वतंत्रता संग्राम में योगदान, समाज सेवा सहित व्यक्तित्व के अनेक पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए आह्वान किया कि बैंक कर्मी उनके द्वारा स्थापित नैनीताल बैंक को उच्च शिखर पर ले जाएं। यही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस दौरान उन्होंने बैंक आगामी बिजनेस मॉडल भी प्रस्तुत किया। पंत ने कहा कि अब नैनीताल बैंक अपनी जोखिम क्षमता को बांटने की नीति पर काम करेगा। इस नीति के तहत बड़े ऋणों की जगह 20-25 करोड़ रुपए तक के ही ऋण स्वीकृत किये जाएंगे, ताकि किसी एक बड़े ऋण लेने वाले के डूब जाने पर बैंक पर अधिक प्रभाव न पड़े। इस दिशा में कार, घर आदि के व्यक्तिगत रिटेल ऋण एवं एमएसएमई यानी लघु एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र में तथा केंद्र सरकार की आत्मनिर्भर भारत योजना व विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत छोटे उद्यमियों, बेरोजगारों को प्रोत्साहित करने व कृषि क्षेत्र में ऋण दिये जाएंगे। इस अवसर पर ओम प्रकाश जगरवाल, रमन गुप्ता, बीके जोशी, बीबी पांडे, हरेंद्र नगरकोटी, दीपक बिष्ट, राहुल प्रधान, पीआरएस नेगी, प्रांशु त्रिपाठी, विवेक साह, अनुज जोशी, बैंक के निदेशक मंडल के सदस्य मृदुल कुमार अग्रवाल, एनके चारी, बिनीता साह, संजय मुदलियार आदि भी मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/नवीन जोशी-hindusthansamachar.in