नयार वैली एडवेंचर फेस्टिवल में स्थानीय लोगों ने सीखे कयाकिंग के गुर
नयार वैली एडवेंचर फेस्टिवल में स्थानीय लोगों ने सीखे कयाकिंग के गुर
उत्तराखंड

नयार वैली एडवेंचर फेस्टिवल में स्थानीय लोगों ने सीखे कयाकिंग के गुर

news

पौड़ी, 21 नवम्बर (हि.स.)। नयार वैली एडवेंचर फेस्टिवल के तीसरे दिन शनिवार को कयाकिंग ट्रायल का आयोजन नयार नदी बिलखेत में किया गया। प्रतियोगिता में बीएसएफ के चार जवानों सहित 20 लोगों ने प्रतिभाग किया। इस दौरान जवानों ने स्थानीय लोगों को कयाकिंग के गुर भी सिखाए। इसके अलावा पैराग्लाइडिंग और एंगलिंग की प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। नयार वैली एडवेंचर फेस्टिवल में बीएसएफ के जवानों और स्थानीय लोगों ने कयाकिंग ट्रायल किया। बीएसएफ के डिप्टी कमांडेंट दिनेश चौहान ने कहा है कि नयार नदी में कयाकिंग का ट्रायल सफल रहा।पर्यटकों को इस तरह के खेल पसंद हैं और स्थानीय लोगों को इसकी पहल करनी चाहिए, इससे उनको अच्छा रोजगार मिल सकता है। बिलखेत में एडवेंचर की अपार संभावनाएं हैं। इस अवसर पर एसआई नेन सिंह, उत्त्तम नाशकर, हजरत अली आदि लोग मौजूद थे। इसके अलावा नयार नदी पर एंगलिंग प्रतियोगिता भी आयोजित हुई। इसमें देशभर से आए एंगलर ने प्रतिभाग किया। वहीं बिलखेत में पैराग्लाइंडिंग प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। इस दौरान माउंटेन बाइकिंग के प्रतिभागी परसुंडाखाल गरुडा कैम्प से होते हुये मुंडेश्वर महादेव - सकिनखेत से बिलखेत पहुंचे। इस प्रतियोगिता में 25 युवकों ने प्रतिभाग किया। फेस्टिवल में मौजूद लोगों ने प्रतिभागियों के फिनिश पॉइंट पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया। नयार वैली एडवेंचर में माउंटेन बाइकिंग में सबसे पहले हिमाचल प्रदेश के आशीष शेरपा पहुंचे। उन्होंने कहा कि यह उत्तराखंड के लिए महत्वपूर्ण आयोजन है। माउंटेन बाइकिंग करना पौड़ी गढ़वाल में बहुत अच्छा लगा। वह उत्तराखंड के ऐसे आयोजन में हर बार शामिल होंगे। माउंटेन बाइकिंग के समन्वयक व हिमालयन एडवेंचर स्पोर्ट्स के सदस्य अजय कंडारी ने बताया कि यह पौड़ी गढ़वाल व उत्तराखंड के लिए महत्वपूर्ण आयोजन है। उन्होंने मुख्यमंत्री व जिलाधिकारी का धन्यवाद ज्ञापित किया। हिन्दुस्थान समाचार / राजीव / मुकुंद-hindusthansamachar.in