दहेज: बहन की मौत, इंसाफ के लिए भाई आमरण अनशन पर
दहेज: बहन की मौत, इंसाफ के लिए भाई आमरण अनशन पर
उत्तराखंड

दहेज: बहन की मौत, इंसाफ के लिए भाई आमरण अनशन पर

news

हल्द्वानी, 04 सितम्बर (हि.स.)। कमलूवागांजा में चंदन कफलटिया अपनी बहन को इंसाफ दिलाने के लिए अपने घर पर आमरण अनशन पर बैठा है। उसे छह दिन हो गए पर किसी ने भी सुध नहीं ली है। चंदन ने थानाध्यक्ष की भूमिका पर सवाल उठाते हुए उसे निलंबित करने की मांग की है। चंदन के मुताबिक उसकी बहन पुष्पा की शादी 2013 में तारा नवाड़ गौलापार क्षेत्र में गौरव बेलवाल के साथ हुई थी। ससुराल में शुरू से ही उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया गया। इस साल 28 जून को उसके साथ मारपीट की गई। उसे बेहोशी की हालत में बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया। 5 जुलाई को बरेली के राममूर्ति अस्पताल में पुष्पा बेलवाल की मौत हो गई। चंदन का आरोप है की बहन के साथ मारपीट होने से पहले उसने 112 नंबर को फोन कर मदद मांगी पर चोरगलिया थाना पुलिस ने कोई मदद नहीं की। उनकी रिपोर्ट दर्ज करने में भी पुलिस ने लेटलतीफी और लापरवाही की। चंदन का कहना है कि जब तक बहन के ससुरालियों और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती तब तक वह अनशन जारी रखेगा। उसने सबसे पहले थानाध्यक्ष को निलंबित करने की मांग की है। इस मामले में सीओ शांतनु पराशर का कहना है कि मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। ससुराल वालों ने अरेस्टिंग स्टे लिया है। लिहाजा पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर सकती। हिन्दुस्थान समाचार/अनुपम गुप्ता/मुकुंद-hindusthansamachar.in