डीएम ने सभी दिव्यांगों को यूडीआईडी कार्ड देने के दिये निर्देश
डीएम ने सभी दिव्यांगों को यूडीआईडी कार्ड देने के दिये निर्देश
उत्तराखंड

डीएम ने सभी दिव्यांगों को यूडीआईडी कार्ड देने के दिये निर्देश

news

नई टिहरी, 30 जुलाई (हि.स.)। जिला सभागार में डीएम मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में समाज कल्याण विभाग की लोकल लेवल कमेटी की बैठक संपन्न हुई। बैठक में समिति ने विकासखंड थौलधार ग्राम बरनौली के जांच के उपरांत मानसिक दिव्यांग विनोद के लीगल गार्जन के रूप में उनके चचेरे भाई केशव भट्ट को नामित किया गया। दिव्यांगजन विनोद की देखभाल की जिम्मेदारी व उनके बैंक खातों के संचालन की अनुमति भी उनके चचेरे भाई केशव भट्ट को समिति ने दी। बैठक में अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी दीपांकर घिल्डियाल ने बताया कि आधार कार्ड की तर्ज पर भारत सरकार ने दिव्यांगजनों को यूनिक आईडी कार्ड (यूडीआईडी) जारी किए जा रहे हैं। जनपद में समाज कल्याण विभाग ने अब तक 415 दिव्यांगजन व्यक्तियों को ऑनलाइन यूडीआईडी कार्ड जनरेट किये हैं। जबकि स्वास्थ्य विभाग ने इन दिव्यांगजनों के दिव्यांग प्रमाण पत्रों की जांच के उपरांत यूडीआईडी कार्ड को अगले स्तर पर प्रेषित नहीं किया जाना बताया गया है। जिस पर डीएम ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी सुमन आर्य को सभी प्रक्रियाएं पूरी करते हुए तत्काल ऑनलाइन कार्ड के आवेदनों को अग्रसारित किये जाने के निर्देश दिये। ताकि भारत सरकार से दिव्यांगजनों को यूडीआईडी कार्ड जल्द ही प्राप्त हो सके। डीएम ने संबंधित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि दिव्यांगजनों के आधार कार्ड, दिव्यांग प्रमाण पत्र, दो फोटो व हस्ताक्षर नमूना ग्राम प्रधानों के माध्यम से प्राप्त करने के लिए पत्राचार किया जाए। अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद में जो संरक्षक या अभिभावक अपने दिव्यांग बच्चों या परिजनों का वैधानिक संरक्षक (लीगल गार्जियन) नियुक्त कराना चाहते हो। वह जिला समाज कल्याण अधिकारी को प्रार्थना पत्र भेज सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ व्यक्ति का दिव्यांग प्रमाण पत्र लगाना भी आवश्यक होगा। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुमन आर्य, अध्यक्ष ग्रामीण क्षेत्र विकास समिति सुशील बहुगुणा, दिव्यांगजन समिति के सदस्य साहब सिंह रावत आदि मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल/-hindusthansamachar.in