टीडीसी में गुटबाजी सहन नहीं : जिलाधिकारी
टीडीसी में गुटबाजी सहन नहीं : जिलाधिकारी
उत्तराखंड

टीडीसी में गुटबाजी सहन नहीं : जिलाधिकारी

news

रुद्रपुर (उधमसिंह नगर ), 05 नवम्बर (हि.स.)। जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने साफ कहा है कि तराई विकास निगम के भीतर किसी भी प्रकार की गुटबाजी सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि निगम के सभी अधिकारी व कर्मचारी आपस में सहयोग करते हुए संस्था के हित में कार्य करें और यदि ऐसा नहीं पाया गया तो दोषी के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिलाधिकारी रंजना कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित निगम की बैठक में विचार व्यक्त कर रही थी। बैठक में निगम के महाप्रबंधक डॉ. अभय सक्सेना ने जानकारी दी कि वर्ष 2018-19में खरीफ और रबी की फसल के लिए जो उत्पादन किया गया था उसके अनुपात में वर्ष 2019 में उत्पादन कम हुआ है, जिस कारण टीडीसी लगातार घाटे में जा रहा है। जिलाधिकारी श्रीमती रंजना ने कहां कि टीडीसी का लगातार घाटे में जाना बहुत गंभीर विषय है। निगम के सभी अधिकारियों को अपनी अपनी जिम्मेदारियों को समझना होगा। अधिकारी अपने कार्यशैली में सुधार लाएं तथा रणनीति बदले अगर ऐसा नहीं हुआ तो निगम के सामने और गंभीर स्थिति पैदा हो सकती है। उन्होंने कहा कि संस्था किसी एक की नहीं बल्कि सब की है, इसलिए सब पर आपस मे मिलकर संस्था को आगे ले जाने की जिम्मेदारी है। जिलाधिकारी ने कहा कि एक योजना बनाकर लक्ष्य निर्धारित करें और निर्धारित किए गए लक्ष्य को निश्चित समय में ही पूर्ण करें ।उन्होंने कहा कि कि संस्था के अंदर किसी भी प्रकार की गुटबाजी बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।सभी अधिकारियों को एक दूसरे का सहयोग करते हुए संस्था के हित में कार्य करना होगा और गुटबाजी के मामले में यदि कोई व्यक्ति दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। इस अवसर पर निगम के वित्त नियंत्रक श्रीमती आवागढ़ खाल मुख्य बीज उत्पादन अधिकारी डॉ दीपक पांडे अनिसुर रहमान बीज उत्पादन अधिकारी बीसी बनेड़ा उदय राज डॉ अमित शर्मा डॉ वीके मिश्रा एचपीएस चौहान कुलदीप सिंह राजपूत नकुल जोशी राजेश सिंह आदि मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/विजय आहूजा-hindusthansamachar.in