जूना अखाड़े के संतों के साथ मेलाधिकारी ने किया पंचायती धड़ा फिरेडियान का निरीक्षण
जूना अखाड़े के संतों के साथ मेलाधिकारी ने किया पंचायती धड़ा फिरेडियान का निरीक्षण
उत्तराखंड

जूना अखाड़े के संतों के साथ मेलाधिकारी ने किया पंचायती धड़ा फिरेडियान का निरीक्षण

news

हरिद्वार, 19 जनवरी (हि.स.)। कुंभ मेलाधिकारी दीपक रावत ने मंगलवार को जूना अखाड़े के संतों के साथ पंचायती धड़ा फिरेडियान का निरीक्षण कर धड़े पर बिजली, पानी, शौचालय, साफ सफाई, सौन्दर्यकरण आदि करने के अधिकारियों को निर्देश दिये। धड़े पर ही जूना, आह्वान और अग्नि अखाड़े के संत नगर प्रवेश करने के बाद निवास करते हैं। इसके बाद यहीं से इन अखाड़ों की पेशवाई निकलती है। धड़े पर अभी तक मूलभूत सुविधाएं नहीं होने से संत समाज नाराज था। इसी के चलते उन्होंने दो दिन पूर्व सीसीआर में प्रदर्शन कर नाराजगी भी जतायी थी। संतो की नाराजगी के बाद ज्वालापुर के पांडे वाला स्थित श्री पंचायती धड़ा फिरहेडियान से कुम्भ मेले की पेशवाई निकलने का रास्ता साफ हो गया है। जूना अखाड़े के साधु -संतों के साथ के साथ कुंभ मेलाधिकारी दीपक रावत ने पांडेवाला स्थित श्री पंचायती धड़ा फिरहेडियान का निरीक्षण किया। उनके साथ कई विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहे। कुंभ मेले में इसी स्थान से जूना, अग्नि और आह्वान तीनों अखाड़ों की पेशवाई निकलती है। निरीक्षण के दौरान मेलाधिकारी दीपक रावत ने सबंधित विभागों के अधिकारियों को पेशवाई स्थल पर बिजली, पानी, सड़क, शौचालय आदि व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कुम्भ मेले को दिव्य भव्य और सकुशल सम्पन्न कराने पर विशेष काम किया जा रहा है। साधु- संतों के साथ कहीं किसी प्रकार की नाराजगी नहीं है, जो कुछ भी चल रहा है वो कुम्भ मेले के संवाद का हिस्सा है। वहीं जूना अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज ने सरकार और कुम्भ मेला प्रशासन का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मेलाधिकारी खुद चलकर व्यवस्थाओं का जायजा लेने आ गए हैं। इसके लिए अब कहीं कोई नाराजगी नहीं है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in