ग्रामीणों की डीएम से फेरी बोट शुरू करने की मांग
ग्रामीणों की डीएम से फेरी बोट शुरू करने की मांग
उत्तराखंड

ग्रामीणों की डीएम से फेरी बोट शुरू करने की मांग

news

नई टिहरी, 18 अक्टूबर (हि.स.)। ग्राम सभा सारपूल और मयून्डा के प्रधान सहित आम लोगों ने डीएम इवा श्रीवास्तव को पत्र लिखकर फेरी बोट बंद होने से उपजी परेशानियों से अवगत कराया है। डीएम से फेरी बोट शीघ्र संचालित करने की मांग की गई है। प्रतापनगर के पूर्व विधायक विक्रम सिंह नेगी ने फेरी बोट बंद होने को मनमानी करार देते हुये डीएम से ग्रामीणों की समस्या को देखते हुये फेरी बोट शुरू करने की मांग की है। सारपूल की प्रधान कविता और मयून्डा के प्रधान ने डीएम का लिखे पत्र में अवगत कराया है कि पुनर्वास विभाग ने पौडीयार से सारपूल तक फेरी बोट का संचालन किया जा रहा था। उसे बंद कर दिया गया है। इससे ग्रामीणों को लंबी दूरी तय कर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। फेरी बोट बंद होने से सारपूल सहित ननया थात, मुसांकरी, कस्तल, ढुंग, चौंदाणा के समस्त छात्र-छात्राओं को महाविद्यालय व प्रशिक्षण केंद्रों में जाने में परेशानी उठानी पड़ रही है। इसी तरह म्यून्डा के लिए फेरी बोट बंद होने से बीमार बजुर्गों व आम लोगों को आवाजाही में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में सुंदर विष्ट, पूर्ण सिंह, सब्बल सिंह, रघुवीर सिंह, बुद्धी सिंह, शूरवीर सिंह, रमेश सिंह आदि शामिल हैं। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल/मुकुंद-hindusthansamachar.in