कोरोना ने बदले रीति-रिवाज, ऑनलाइन बांधी जाएंगी राखियां और मिलेगा डिजिटल गिफ्ट
कोरोना ने बदले रीति-रिवाज, ऑनलाइन बांधी जाएंगी राखियां और मिलेगा डिजिटल गिफ्ट
उत्तराखंड

कोरोना ने बदले रीति-रिवाज, ऑनलाइन बांधी जाएंगी राखियां और मिलेगा डिजिटल गिफ्ट

news

हरिद्वार, 02 अगस्त (हि.स.)। इस बार सावन का महीना कोरोना की भेट चढ़ गया। भाई-बहन के प्यार के त्योहार रक्षाबंधन पर भी कोरोना की मार पड़ी। कोरोना के डर से लोग सफर करने के बच रहे हैं। इस बार न तो भाई अपनी बहनों के पास जा रहे हैं और न ही बहनें अपने भाइयों के पास जा रही हैं। रक्षाबंधन का त्योहार डिजिटल माध्यम से मनाया जा रहा है। भाई-बहन डाक और कोरियर के जरिए भी आपस में राखी व गिफ्ट भेज रहे हैं। हरिद्वार के मुख्य डाकघर के डाकपाल सहायक अनिल कुमार गुप्ता के मुताबिक पिछले साल की तुलना में इस बार ज्यादा राखियां पोस्ट की गई हैं। कोरोना की वजह से लोग एक शहर से दूसरे शहर में जाने के बच रहे हैं। इसीलिए भाई-बहन राखी और गिफ्ट भेजने के लिए पोस्ट ऑफिस का सहारा ले रहे हैं। डाक विभाग के रंगीन लिफाफे लोगों को पसंद आए हैं। हर साल रक्षा बंधन पर कर्मचारियों की छुट्टी रहती थी, लेकिन इस बार काम ज्यादा होने के कारण रक्षा बंधन पर भी सभी कर्मचारियों को बुलाया गया है। हालांकि सिर्फ राखी पोस्ट करने का ही काम किया जा रहा है। हरिद्वार की कुछ महिलाओं का कहना है कि वैसे राखी का त्योहार भाई की कलाई पर राखी बांधकर ही पूरा होता है, लेकिन इस बार कोरोना के चलते वे कहीं नहीं जा पा रही हैं। इसीलिए वह इस बार डाक के जरिए ही राखी भेज रही हैं। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in