उत्तराखंड

कोरोना के बीच अब डेंगू का डंक, लोग परेशान

news

हरिद्वार, 11 सितम्बर (हि.स.)। कोरोना महामारी के साथ ही हरिद्वार शहर में डेंगू ने भी पैर पसार लिये हैं। क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में अब तक 40 डेंगू के मरीज सामने आए हैं। हालांकि इसकी रोकथाम के लिए जिला प्रशासन का अभियान निरंतर जारी है। हर साल बरसात के मौसम में डेंगू अपना प्रकोप दिखाता है। एक तरफ जहां लाखों लोग इसकी चपेट में आते हैं वहीं इससे कई लोगों की जान भी चली जाती है। इस वर्ष डेंगू का आगमन ऐसे वक्त में हुआ है जब पूरी दुनिया कोरोना की गिरफ्त में है। हरिद्वार शहर भी इस वैश्विक महामारी से अछूता नहीं है। एक ओर जहां नगर निगम क्षेत्र में हर दिन बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित सामने आ रहे हैं वहीं दूसरी तरफ डेंगू ने भी आमजन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अभी तक धर्मनगरी में डेंगू के 40 मरीज मिलें हैं। इनमें भीमगोड़ा, मुखिया गली, रानी गली, खड़खड़ी, बड़ा बाजार, छोटा जोगीवाड़ा, हरकी पैड़ी, कुशा घाट, माया देवी मंदिर, मोती बाजार, रामलीला ग्राउंड, श्रवणनाथ नगर से लेकर ज्वालापुर, आर्य नगर, शारदा नगर, जमालपुर, ऋषिकुल, जगजीतपुर, रामकृष्ण मिशन, कनखल आदि इलाकों के मरीज शामिल हैं। जिला प्रशासन इसकी रोकथाम व लार्वा नष्ट करने की मुहिम चला रहा है लेकिन कोरोना काल में डेंगू के लक्षण वाले मरीजों की टेस्टिंग व इलाज एक बड़ी चुनौती है। कोरोना के कारण निजी चिकित्सक व प्राइवेट अस्पताल एहतियातन मरीजों का इलाज करने से हिचक रहे हैं। सरकारी अस्पतालों के इंतजाम कोरोना मरीजों को प्राथमिकता दे रहे हैं। ऐसे में डेंगू का फैलाव आमजन की मुश्किलें बढ़ाने वाला सिद्ध हो रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत-hindusthansamachar.in