कोरोना का असरः विधानसभा के मानसून सत्र में उपस्थित नहीं हो पाएंगे स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल
कोरोना का असरः विधानसभा के मानसून सत्र में उपस्थित नहीं हो पाएंगे स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल
उत्तराखंड

कोरोना का असरः विधानसभा के मानसून सत्र में उपस्थित नहीं हो पाएंगे स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल

news

देहरादून, 22 सितम्बर (हि.स.)। उत्तराखंड विधानसभा के बुधवार से प्रारंभ होने वाले मानसून सत्र से पूर्व कोरोना पॉजिटिव आने के कारण विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल सदन में उपस्थित नहीं हो पाएंगे। उन्होंने मानसून सत्र की पूर्व संध्या पर मंगलवार को सत्ता और विपक्ष के सभी विधायकों से अपील की है कि वे सदन को शांतिपूर्ण तरीके एवं संवैधानिक मर्यादाओं के अंतर्गत संपन्न कराने में सभी को सहयोग करें। अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के कारण मंत्री, नेता प्रतिपक्ष एवं अनेक विधायक पॉजिटिव पाए गए हैं। ऐसे में सदन को गरिमा पूर्ण तरीके से संपादित करना प्रत्येक सदस्य की जवाबदेही है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के कुप्रभाव से बचने के लिए विधानसभा के अंदर तमाम इंतजाम किए गए हैं परंतु फिर भी मंत्री गण, विधायकों एवं अधिकारियों की सुरक्षा अत्यंत आवश्यक है। विधानसभा अध्यक्ष ने विधायकों से अपील की कि सदन का सीमित समय होने के कारण आवश्यक काम शांतिपूर्ण तरीके से संपादित हो, ऐसा सभी को प्रयास करना चाहिए। अनेक विधायकगण वर्चुअल भी सदन की कार्यवाही से जुड़ेंगे, उन्हें भी समय की मर्यादा को ध्यान में रखकर अपनी बात को संक्षिप्त रूप में सदन तक पहुंचानी होगी, ताकि उसका भी समाधान हो सके । अग्रवाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार द्वारा जारी निर्देशों का सभी लोग पालन करेंगे। मैं स्वयं भी देहरादून स्थित अपने शासन के आवास में होम क्वारंटाइन हूं और शीघ्र ही स्वस्थ होकर आप सब लोगों के बीच में पुनः सक्रियता के साथ लौटूंगा। उल्लेखनीय है कि विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल का दो दिन पहले ही कोरोना का एंटीजन टेस्ट पॉजिटिव आया था, जिसके बाद से वह होम आइसोलेशन में हैं। हिन्दुस्थान समाचार/दधिबल/मुकुंद-hindusthansamachar.in