ऑनलाइन धार्मिक कर्मकांड शास्त्र विरुद्धः अधीर कौशिक
ऑनलाइन धार्मिक कर्मकांड शास्त्र विरुद्धः अधीर कौशिक
उत्तराखंड

ऑनलाइन धार्मिक कर्मकांड शास्त्र विरुद्धः अधीर कौशिक

news

हरिद्वार, 12 सितम्बर (हि.स.)। पितृ पक्ष में कुछ लोग ऑनलाइन श्राद्ध और पिंडदान करा रहे हैं। इसका श्री अखंड परशुराम अखाड़े ने कड़ा विरोध किया है। श्री अखंड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा है कि ऑनलाइन धार्मिक कर्मकांड कराना धर्म और देवी, देवताओं का अपमान है। इससे समाज और मानव का पतन निश्चित है। इससे लोग नास्तिक हो जाएंगे और तीर्थ की महिमा मिट जाएगी। साथ ही वैदिक परंपराओं को भी नुकसान होगा। उन्होंने इसे कलयुग का प्रभाव बताते हुए कहा कि कुछ कर्मकांडी लालच में इस तरह से ऑनलाइन कर्मकांड करके पाप के भागीदार बन रहे हैं। ऐसे लोगों पर ब्राह्मण समाज को कार्रवाई करते हुए ऑनलाइन कर्मकांड को बंद कराना चाहिए। अगर समय रहते इस तरह के धर्म विरोधी कार्यों को रोका नहीं गया तो आने वाले समय में इसके घातक परिणाम देखने को मिलेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in