एफआरआई में बायोमास- नेचुरल डाई पर वेबिनार
एफआरआई में बायोमास- नेचुरल डाई पर वेबिनार
उत्तराखंड

एफआरआई में बायोमास- नेचुरल डाई पर वेबिनार

news

देहरादून, 24 जुलाई (हि. स.)। वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई) के रसायन एवं जैव पूर्वेक्षण प्रभाग के तत्वावधान में शुक्रवार को फॉरेस्ट बायोमास से नेचुरल डाई विषय पर वेबिनार का आयोजन किया गया। भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद देहारादून के बोर्ड रूम में इसका उद्घाटन महानिदेशक (भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद) डॉ. अरुण सिंह रावत ने किया। इसमें प्रमुख शैक्षणिक एवं वैज्ञानिक संस्थानों के विशिष्ट वैज्ञानिक, शिक्षाविद्, गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधि , केन्द्रीय रेशम बोर्ड, राज्य रेशम बोर्ड और उद्योगों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। मुख्य अतिथि डॉ. अरुण सिंह रावत ने बायो इकोनोमी के युग में बायोमास उपयोग के महत्व को रेखांकित किया। डॉ. विनीत कुमार ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। डॉ. प्रवीन उनियाल, डॉ. बैसी सेसिल, अशोक थोरी, रचित जैन, रश्मि भारती, डॉ. एन.सेंथिल कुमार, डॉ एसएन चट्टोपाध्याय, यावर अली शाह, अनिल चंदोला ने विचार रखे। वेबिनार में 40 लोगों ने प्रतिभाग किया। डॉ. वाईसी. त्रिपाठी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। हिन्दुस्थान समाचार/राजेश/मुकुंद-hindusthansamachar.in