एक दिवससीय इंडक्शन प्रोग्राम में नवनियुक्त प्राध्यापकों को दीं गई जानकारियां
एक दिवससीय इंडक्शन प्रोग्राम में नवनियुक्त प्राध्यापकों को दीं गई जानकारियां
उत्तराखंड

एक दिवससीय इंडक्शन प्रोग्राम में नवनियुक्त प्राध्यापकों को दीं गई जानकारियां

news

नई टिहरी, 11 अगस्त (हि.स.)। राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में नवनियुक्त असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए एक दिवसीय इंडक्शन प्रोग्राम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में वरिष्ठ प्राध्यापकों ने नवनियुक्त प्राध्यापकों को टीचिंग-लर्निंग स्किल, वित्तीय प्रबंधन व अवकाश संबंधी नियमों की जानकारी दी गयी। मंगलवार को एक दिवसीय कार्यक्रम का शुभारंभ महाविद्यालय की प्रभारी प्राचार्य डॉ. अरुणा पी सूत्राधर ने किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि नवनियुक्त प्राध्यापकों के लिए शिक्षण अधिगम के क्षेत्र में कार्यकुशलता प्राप्त कर अपने कौशल को विकसित कर छात्र छात्राओं को और अधिक कौशल पूर्ण तरीकेसे पढ़ाने में मदद मिलेगी। कार्यक्रम में वनस्पति विज्ञान विभाग की विभाग प्रभारी डॉ. शालिनी रावत ने विभाग में प्रवेश प्रक्रिया,अध्ययन-अध्यापन की प्रविधियां, प्रयोगात्मक विषयों में अलग-अलग उपकरणों एवं विभिन्न सामग्रियों के क्रय करने विषयक जानकारी साझा की। वाणिज्य विभाग के वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. आईएस ममगाई ने अपने लंबे शैक्षणिक अनुभव को साझा करते हुए बताया कि शिक्षण अधिगम की प्रक्रिया की सफलता सम्यक मूल्यांकन पर निर्भर करती है। इसलिए प्राध्यापकों को मूल्यांकन को वस्तुनिष्ठ रखने पर जोर देना चाहिए। इसी प्रकार समाजशास्त्र विभाग के डॉ. मणिकांत शाह ने उच्च शिक्षा के उद्देश्यों और अपेक्षाओं को स्पष्ट करते हुए बताया कि आज हर प्रकार से नवनियुक्त शिक्षकों को वैश्विक और स्थानीय चुनौतियों का सामना करने के लिए अपने को तैयार रखना होगा। डॉ. कुलदीप सिंह ने कक्षा का प्रबंधन करने एवं शिक्षण में अपने कौशल को विकसित करने के संबंध में पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी। उन्होंने उच्च शिक्षा में अवकाश के अलग-अलग नियमों और अलग-अलग स्थितियों के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर डॉ. संजीव सिंह नेगी, गणित विज्ञान के प्राध्यापक डॉ. संदीप बहुगुणा और रसायन विज्ञान विभाग के डॉ. अरविंद पैन्यूली ने जरूरी जानकारियां दीं। इस मौके पर डाॅ. मैत्रेयी, डाॅ. सत्येंद्र, डाॅ. श्रद्धा, डॉ. ममता रावत, डॉ. भारती जायसवाल, डॉ. माधुरी कोहली, डॉ. शुक्ला, डॉ. सत्येंद्र ढौंडियाल, डॉ. वीर सिंह, डॉ. सुभाष नौटियाल और डाॅ. अरविंद रावत आदि उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल/-hindusthansamachar.in