उत्तराखंड 'आप' के प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष को नोटिस दिए जाने पर कार्यकार्ताओं में रोष
उत्तराखंड 'आप' के प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष को नोटिस दिए जाने पर कार्यकार्ताओं में रोष
उत्तराखंड

उत्तराखंड 'आप' के प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष को नोटिस दिए जाने पर कार्यकार्ताओं में रोष

news

गोपेश्वर, 15 अक्टूबर (हि.स.)। आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड प्रभारी व प्रदेश अध्यक्ष को प्रदेश सरकार की ओर से नोटिस जारी किये जाने पर आम आदमी पार्टी के बदरीनाथ विधान सभा के प्रभारी अनूप रावत ने रोष प्रकट करते हुए इसे भाजपा की बौखलाहट करार दिया है। गुरुवार को एक बयान जारी में बदरीनाथ विधानसभा के प्रभारी ने कहा कि जो भाजपा गंगा को स्वच्छ करने के साथ ही यहां की जनता के साथ तमाम दिवास्वप्न दिखा कर सत्ता में काबिज हुई थी वहीं सरकार आज जब उनकी कही बातों को पूरा न करने पर सरकार से सवाल करती है तो उल्टा उन्हें नोटिस थमा दिया जाता है। उन्होंने कहा कि यह भाजपा सरकार की बौखलाहट का नतीजा है कि उसने आम आदमी पार्टी के नेताओं को नोटिस देकर यह जता दिया है कि उत्तराखंड मे आम आदमी पार्टी मजबूती के साथ उभर रही है। उन्होंने कहा कि जनता के साथ किये वादों को पूरा करना सरकार का दायित्व है और जनता का अधिकार है कि वह किये गये वादों को पूरा करने पर सरकार से सवाल करे लेकिन भाजपा के राज में सवाल करना गुनाह माना जा रहा है और सवाल करने वालों को कानूनी दांव पेंच दिखा कर चुप करने की साजिश रची जा रही है। लेकिन आम आदमी पार्टी चुप नहीं बैठने वाली है और जनता के सवालों को हर मंच पर उठाती रहेगी चाहे इसके लिए सरकार उन्हें जेल ही क्यों न भेज दे। उन्होंने कहा कि इस सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है और यह सरकार बौखला कर मनमाने फरमान जारी कर रही है। जिसका जबाव जनता आने वाले समय में जरूर देगी। हिन्दुस्थान समाचार/जगदीश-hindusthansamachar.in