उगते सूरज को अर्घ्य  देकर किया लोक आस्था के महापर्व छठ का समापन
उगते सूरज को अर्घ्य देकर किया लोक आस्था के महापर्व छठ का समापन
उत्तराखंड

उगते सूरज को अर्घ्य देकर किया लोक आस्था के महापर्व छठ का समापन

news

ऋषिकेश, 21 नवम्बर (हि.स.)। तीर्थ नगरी ऋषिकेश में लोक आस्था और सूर्य उपासना के महापर्व छठ के चौथे और आखिरी दिन शनिवार सुबह व्रतियों ने उगते सूरज को अर्घ्य देकर अपने परिवार और देश की सुख -समृद्धि की कामना की। कोरोना के चलते नदी किनारे के घाटों पर सामूहिक पूजा पर लगाई गई रोक के बावजूद त्रिवेणी घाट, राम झूला, लक्ष्मण झूला और वीरभद्र तक लोग दिखाई दिए। व्रती महिलाओं ने गंगा के बीच में खड़े होकर सूर्य को अर्ध्य दिया। निर्जल व्रती महिलाओं ने उगते सूरज को दुग्धाभिषेक व जलाभिषेक कर विधि विधान से पूजा की। व्रत को खोलने के साथ बनाए गए प्रसाद को वितरित किया । हिन्दुस्थान समाचार /विक्रम/मुकुंद-hindusthansamachar.in