आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवार का सहारा बनीं इनर व्हील क्लब की महिलाएं, खुलवाया ढाबा
आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवार का सहारा बनीं इनर व्हील क्लब की महिलाएं, खुलवाया ढाबा
उत्तराखंड

आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवार का सहारा बनीं इनर व्हील क्लब की महिलाएं, खुलवाया ढाबा

news

हरिद्वार, 16 अक्टूबर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत बनाने के सपने को साकार करने में हरिद्वार की कुछ महिलाएं जुटी हैं। इनर व्हील क्लब संस्था से जुड़ी महिलाएं न केवल सामाजिक कार्यों में बखूबी हिस्सा लेती हैं बल्कि लॉकडाउन से प्रभावित एक परिवार को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया है। इनर व्हील क्लब की अध्यक्ष विनीता गौनियाल ने बताया कि कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन से काफी लोग प्रभावित हुए। ऐसे में एक परिवार अपनी समस्या लेकर आया था। जिसके बाद क्लब से जुड़ी महिलाओं ने अपनी पॉकेटमनी से पैसे इकट्ठे किए और उन्हीं के घर के बाहर एक छोटी सी दुकान खुलवा दी है। अब यह परिवार अपना खर्चा खुद उठा पाएगा। विनीता ने बताया कि क्लब ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन से प्रेरित होकर इस परिवार को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया है। क्लब में करीब 45 महिलाएं हैं, जो सामाजिक कार्यों के प्रति जागरूक रहती हैं। परमेशपरी दासी ने बताया कि कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते उनके सामने रोजी-रोजी का संकट गहरा गया था। उनके परिवार में बेटा-बहू और उनके चार बच्चे हैं। लॉकडाउन के कारण उनके बेटे की नौकरी भी छूट गई थी। जिसके कारण उन्हें जीवन यापन करने में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा रहा था। अब क्लब ने उनके लिए दुकान खुलवा दी है। जिसमें उन्होंने टी-स्टॉल और भोजनालय बनाया है। जिसे वो और उनकी बहू चलाती हैं। उन्होंने क्लब का आभार भी जताया। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत-hindusthansamachar.in