अखाड़ों को एक-एक करोड़ रुपये देने की सरकार की घोषणा पर व्यापारियों का  प्रदर्शन
अखाड़ों को एक-एक करोड़ रुपये देने की सरकार की घोषणा पर व्यापारियों का प्रदर्शन
उत्तराखंड

अखाड़ों को एक-एक करोड़ रुपये देने की सरकार की घोषणा पर व्यापारियों का प्रदर्शन

news

हरिद्वार, 24 जुलाई (हि.स.)। कुंभ मेले के मद्देनजर उत्तराखंड सरकार द्वारा प्रत्येक अखाड़े को एक-एक करोड़ रुपये देने की घोषणा पर हरिद्वार के व्यापारियों ने घंटे- घड़ियालों के साथ प्रदर्शन कर धरना दिया। अपर रोड स्थित श्री गुरु गोरक्षनाथ व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष संजय त्रिवाल ने कहा है कि उत्तराखंड सरकार सभी को एक सामान माने। व्यापारी अमीर नहीं होते। वह रोज गड्ढा खोदता है और पानी पीता है। कोरोना के कारण हुए लॉक डाउन के चलते व्यापारियों की स्थिति खराब हो चुकी है। कारोबार ठप है। पर्यटन नगरी होने के कारण कोरोनों के चलते पर्यटकों के न आने से तीर्थनगरी का व्यवसाय चौपट हो गया है। सरकार को व्यापारियों की मदद के लिए आगे आना चाहिए। किन्तु सरकार व्यापारियों के बारे में न सोचकर अखाड़ों को एक-एक करोड़ रुपये देने की घोषणा कर रही है। यहअनुचित है। व्यापारियों ने अखांड़ों की तर्ज पर व्यापारियों को भी राहत पैकेज देने की मांग की। मांगे न माने जाने पर व्यापारियों ने सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन की चेतावनी दी। जिला उपाध्यक्ष नीरज सिंघल ने कहा कि व्यापारी हर तरह से सरकार की मदद करते हैं। चाहे वह टैक्स के रूप में हो बिजली का बिल हो पानी का बिल हो। इस मौके पर राहुल शर्मा, विशाल गोस्वामी, अमन त्रिवाल , राजेश अग्रवाल, ऋषभ गोयल, विशाल महेश्वरी, पवन सुखीजा, राजीव बक्शी, मनोज विशनोई, सागर सक्सैना, गगन गुगलानी, राजेश अग्रवाल, दिनेश कुकरेजा, अजय रावल, मुन्ना, सूरज, दिनेश साहू, विनय सिंघल, रवि वेदी, विशाल महेश्वरी, सचिन त्रिवाल, अंकुर सक्सेना आदि उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in