योग शरीर के साथ मन मस्तिष्क को रखता है स्वस्थ : कुलपति

योग शरीर के साथ मन मस्तिष्क को रखता है स्वस्थ : कुलपति
yoga-keeps-the-mind-healthy-along-with-the-body-vice-chancellor

आगरा, 21जून (हि.स.)। विश्व योग दिवस पर सोमवार को डॉक्टर भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय में खंदारी परिसर स्थित दीक्षांत समारोह स्थल पर योग करके 'योग दिवस' कार्यक्रम मनाया गया। इस कार्यक्रम को विश्वविद्यालय के छात्र कल्याण विभाग, राष्ट्रीय सेवा योजना तथा खेलकूद विभाग द्वारा आयोजित किया गया था । कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कुलपति प्रोफेसर अशोक मित्तल ने कहा कि योग से व्यक्ति निरोग होता है। इससे शरीर के साथ -साथ मन मस्तिष्क सभी स्वस्थ होते हैं। योग हमारे जीवन का एक हिस्सा है, जिसे हर मनुष्य को अपने जीवन में प्रतिदिन की चर्या में शामिल करना चाहिये। कुलपति ने एक पुरानी कहावत कहते हुए कहा कि 'एक स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है'। शरीर को न केवल स्वस्थ बनाने के लिए बल्कि पूरे दिन उसकी चुस्ती और स्फूर्ति बनाए रखने के लिए सभी को योगासन और प्राणायाम करना चाहिए। कुलपति ने युवाओं से आह्वान करते हुए कहा कि आज भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में योग में कैरियर की अपार संभावनाएं हैं। आज के दौर में तनाव और अवसाद से ग्रस्त मानव जाति मन की शांति के लिए योग और अध्यात्म की शरण में जा रही है। इस दौरान कुलसचिव डॉक्टर अंजनी कुमार मिश्रा, परीक्षा नियंत्रक डॉ राजीव कुमार, योग गुरु डॉ. राजकुमार शर्मा, छात्र कल्याण विभाग के डीन प्रोफेसर बृजेश रावत, राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक रामवीर सिंह चौहान, खेलकूद विभाग के प्रभारी डॉ. बीडी शुक्ला आदि उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव