मास्क सेल्फी के साथ मनाया गया विश्व क्षय रोग दिवस, मेयर ने किया अभियान का उद्घाटन

मास्क सेल्फी के साथ मनाया गया विश्व क्षय रोग दिवस, मेयर ने किया अभियान का उद्घाटन
world-tuberculosis-day-celebrated-with-mask-selfie-mayor-inaugurates-campaign

झांसी, 24 मार्च (हि.स.)। विश्व क्षय रोग दिवस के उपलक्ष्य में इलाइट चौराहे पर “मास्क सेल्फी अभियान” का शुभारम्भ मेयर रामतीर्थ सिंघल द्वारा किया गया। इस दौरान मास्क लगा कर और सेल्फी जोन में तस्वीर खिंचवा कर तस्वीर को सोशल मीडिया में डालने का आह्वान किया गया। उन्होने कहा कि हमारे प्रधानमन्त्री का सपना है कि 2025 तक भारत टीबी से मुक्त हो जाए। इसलिए इस रोग के लक्षण पहचानते ही इसकी जाँच और इलाज जरूर कराएँ। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. जीके निगम ने कहा कि इस “मास्क सेल्फी” से लोगों में खासतौर से युवा वर्ग के लोगों में क्षय रोग के प्रति जागरूकता लाना इसका मुख्य उद्देश्य है। मास्क को लगाने से क्षय रोग से भी बचा जा सकता है। और जिन लोगों को भी 2 हफ्ता से ज्यादा खांसी है वह तुरंत अपना टीबी का परिक्षण कराएं। जिला क्षय रोग अधिकारी अधिकारी डा. राजकिशोर ने बताया कि क्षय रोग के बैक्टीरिया हवा में मौजूद रहते हैं, लेकिन यह रोग सिर्फ कमजोर प्रतिरोधक क्षमता के लोगों, डायबिटीज एवं उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों पर ज्यादा असर करता है। कार्यक्रम में डा. ललित मोहन नरवरिया, रूपेश नामदेव, डा. सतीश चंद, डा. विजयश्री शुक्ला आदि मौजूद रहे। यह हैं टीबी के लक्षण दो हफ्ते से ज्यादा लगातार खांसी, खांसी के साथ बलगम आ रहा हो, कभी-कभार खून भी, भूख कम लगना, लगातार वजन कम होना, शाम या रात के वक्त बुखार आना, सर्दी में भी पसीना आना, सांस उखड़ना या सांस लेते हुए सीने में दर्द होना, इनमें से कोई भी लक्षण हो सकता है और कई बार कोई लक्षण भी नहीं होता है। प्रत्येक वर्ष विश्व टीबी दिवस 24 मार्च को मनाया जाता है। हर वर्ष इस दिवस की थीम निर्धारित होती है और इस वर्ष की थीम “द क्लॉक इज टिकिंग (घड़ी चल रही है )” है। जो यह बताता है कि टीबी को विश्व से खत्म करने का समय नजदीक आ गया है। पिछले वर्ष यानि 2020 को टीबी दिवस की थीम “इट्स टाइम टू एंड टीबी” यह टीबी खत्म करने का समय है, रखा गया था। हिन्दुस्थान समाचार/महेश

अन्य खबरें

No stories found.