wheat-crop-caught-fire-30-bigha-cultivation-burnt
wheat-crop-caught-fire-30-bigha-cultivation-burnt
उत्तर-प्रदेश

गेहूं की फसल में लगी आग, 30 बीघे की खेती जलकर खाक

news

कानपुर देहात, 08 अप्रैल (हि. स.)। जनपद के रसूलाबाद थानाक्षेत्र में सन्दिग्ध परिस्थितियों में गेंहू की पकी फसल में भयावह आग लग गई। आग लगने से मौके पर खड़ी 25 से 30 बीघा खेती जलकर खाक हो गई। सूचना मिलते ही मौके पर दमकल की गाड़ियां पहुंच गई और काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। होली के बाद गेहूं की फसल पकने लगी है, जिसके बाद ग्रामीण इलाकों में गेहूं की फसलों में आग लगने सिलसिला भी शुरु हो गया है। इसी कड़ी में रसूलाबाद थानाक्षेत्र के तिश्ती गांव में खेतों में खड़ी गेहूं की फसल में अचानक आग लग गई। आग देख वहां हड़कम्प मच गया। लोगों ने आग बुझाने के लिए जो मिला उससे आग को बुझाना शुरु कर दिया। इसी दौरान ग्रामीणों ने पुलिस और दमकल को सूचना दी। सूचना के बाद दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंच सकी, पर तब तक 25 से 30 बीघा खेती जलकर खाक हो चुकी थी। जलने वाले खेतों में एक ही परिवार के छः लोगों जिसमे सर्वेश गुप्ता, विजय गुप्ता, अरुण गुप्ता ,राजू गुप्ता, उमेश गुप्ता, सुरेश गुप्ता की 17 बीघे खेती में आग लगी थी। वहीं नरेन्द्र सिंह गौर की तीन बीघा, विनय दुबे की दो बीघा, कुंवरपाल यादव की तीन बीघा खेती में आग लगने से उनके सारे सपने भी उसी आग में जलकर खाक हो गए। स्व० राजू गुप्ता के घर उनकी बेटी की शादी है वो तो हैं नहीं उनके बेटों के बहन की शादी को अच्छा करने के कई सपने थे कि गेहूं की फसल को बेच कर शादी बेहतर करेंगे वह टूट गए। वहीं विनय दुबे जिनकी मौत हो चुकी है उनके बच्चे जिनके दो बीघे खेती ही है उसकी फसल जल गई। हिन्दुस्थान समाचार/अवनीश