Varanasi: Chief Minister Arogya Health Fair to be held on every PHC every Sunday - District Magistrate
Varanasi: Chief Minister Arogya Health Fair to be held on every PHC every Sunday - District Magistrate
उत्तर-प्रदेश

वाराणसीः हर रविवार को सभी पीएचसी पर लगेगा मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला - जिलाधिकारी

news

वाराणसी, 09 जनवरी (हि.स.)। जिला स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष एवं जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने शनिवार को बताया कि कोविड-19 संक्रमण के कम होते प्रभाव को देख प्रदेश शासन ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले के आयोजन का निर्णय लिया है। जनपद में दस जनवरी से प्रत्येक रविवार को सभी नगरीय एवं ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्वास्थ्य मेला लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोविड.19 संक्रमण के कारण बीते मार्च माह से प्रत्येक रविवार को लगने वाले मेले का आयोजन स्थगित कर दिया गया था। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया है कि मेले में कोविड रोकथाम एवं नियंत्रण प्रोटोकॉल का पालन निश्चित रूप से कराया जाए। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि प्रत्येक स्वास्थ्य मेले में कोविड हेल्प डेस्क अनिवार्य रूप से स्थापित की जाए। फ्लू एवं सांस के रोगियों की क्लीनिकल एवं पैथालोजिकल जांच की व्यवस्था सामान्य रोगियों से पृथक की जाए। हेल्प डेस्क में इन्फ्रारेड थर्मामीटर पल्स ऑक्सीमीटर मास्क एवं सेनिटाइजर की अनिवार्य रूप से उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक स्वास्थ्य मेले में कोरोना जांच अनिवार्य रूप से की जाए। जिलाधिकारी ने बताया कि एक ही छत के नीचे स्वास्थ्य से जुड़ी प्रत्येक सुविधा जांच आदि के उद्देश्य से सभी पीएचसी में हर रविवार को आरोग्य स्वास्थ्य मेला आयोजित किये जाने के निर्देश दिये गए हैं । जिलाधिकारी ने जनमानस से अपील की है कि अपने क्षेत्र में आयोजित स्वास्थ्य मेले में प्रदत्त स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीबी सिंह ने बताया कि शासनादेश के पालन में जनपद के सभी नगरीय और ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्वास्थ्य मेले की तैयारी की गयी है। सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सा प्रभारियों को दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। यह मेला जनपद के छह ग्रामीण एवं 24 नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक आयोजित किया जाएगा। उन्होने बताया कि हर रविवार को यह मेला चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की ओर से आयोजित किया जाएगा । इसमें चिकित्सा शिक्षा बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग एवं आयुष विभाग की भी सेवाएँ दी जाएंगी। मेले में आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड, गर्भावस्था एवं प्रसव कालीन परामर्श, संस्थागत प्रसव संबंधी जागरूकता, जन्म पंजीकरण परामर्श नवजात शिशु स्वास्थ्य सुरक्षा परामर्श एवं सेवाएं बच्चों में डायरिया एवं निमोनिया की रोकथाम और बचाव एवं उपचार की जानकारी दी जायेगी। मेले में टीकाकरण परामर्श एवं सेवाएं, परिवार नियोजन संबंधी परामर्श एवं सुविधाएं, टीबी, मलेरिया, डेंगू, फाइलेरिया, कुष्ठ रोग से संबन्धित जानकारी आवश्यक जांच एवं उपचार की सेवाएँ दी जाएंगी सीएमओ ने बताया कि जिन जाँचों को पीएचसी स्तर पर करना संभव नही है। उन्हें उच्चस्तरीय सरकारी चिकित्सा इकाइयों में रेफर किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर-hindusthansamachar.in