वाराणसी: नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने विकास खंड सेवापुरी का स्थलीय निरीक्षण किया
वाराणसी: नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने विकास खंड सेवापुरी का स्थलीय निरीक्षण किया
उत्तर-प्रदेश

वाराणसी: नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने विकास खंड सेवापुरी का स्थलीय निरीक्षण किया

news

—आयोग ने विकास खंड सेवापुरी को देश का आदर्श एवं मॉडल विकास खंड बनाने के लिए अफसरों के आपसी समन्वय पर दिया जोर वाराणसी, 17 जुलाई (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के विकास खंड सेवापुरी को देश का आदर्श एवं मॉडल विकास खंड बनाने के लिए नीति आयोग के साथ जिला प्रशासन भी जुट गया है। शुक्रवार को नीति आयोग भारत सरकार के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने विकास खंड में सरकार की सभी योजनाओं को लागू करने का निर्देश दिया। इसके लिए उन्होंने विभागीय अधिकारियों के बीच आपसी समन्वय पर खासा जोर दिया। अमिताभ कांत सेवापुरी विकास खंड सभागार में अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने सेवापुरी विकास खंड को भारत का आदर्श एवं मॉडल विकास खंड बनाए जाने के लिए स्थानीय लोगों, जनप्रतिनिधियों एवं विभागीय अधिकारियों को बड़ा जनांदोलन किए जाने की आवश्यकता पर विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा कि इस विकास खंड क्षेत्र के लोगों का आमदनी कैसे बढ़े, यह बड़ा लक्ष्य है। पशुपालन, मत्स्य पालन एवं अन्य रोजगारपरक योजनाओं से यहां के अधिक से अधिक लोगों को आच्छादित एवं लाभान्वित कर लोगों की आय बढ़ाए जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होंने सेवापुरी विकास खंड के सभी ग्राम पंचायतों के सर्वांगीण विकास को सेवापुरी विकास खंड के आदर्श मॉडल होने का पैमाना बताया और विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि विकास खंड के सभी ग्राम पंचायतों में विकास की रफ्तार को लेकर प्रतिस्पर्धा आयोजित किए जाएं। बैठक में सचिव ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार नागेंद्र नाथ सिन्हा ने कहा कि विकास आत्मशक्ति व सामुदायिक भावना से होता है। जनप्रतिनिधियों विशेषकर महिलाओं का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि जिस इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरत होगी उसे प्राथमिकता पर यहां मुहैया कराया जाएगा। गांव की स्वच्छता पर विशेष जोर दिया। अपर मुख्य सचिव एवं जनपद के नोडल अधिकारी मनोज सिंह ने भी शासन की मंशा के अनुरूप सेवापुरी विकास खंड क्षेत्र में समस्त बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराए जाने पर जोर दिया। बैठक में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि सेवापुरी विकासखंड क्षेत्र को समस्त 141 विकास योजनाओं से संतृप्तिकरण के लिए लक्ष्य निर्धारित किया जा चुका है। इसके क्रियान्वयन का पर्यवेक्षण भी अधिकारियों द्वारा सुनिश्चित किया जा रहा है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों, ग्राम प्रधानों ने अपने सुझाव देते हुए कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में गली, सड़क, हैंडपंप आदि के साथ जलनिकासी की भी समुचित व्यवस्था होना चाहिए। शिक्षा, स्वच्छता एवं स्वास्थ्य व्यवस्था के साथ-साथ लोगों ने फिजिकल इन्फ्राट्रक्चर पर जोर दिया। बैठक में इम्तियाज अंसारी, पवन कुमार रस्तोगी, माया सिंह, प्रियंका श्रीवास्तव, सुरेंदर तथा रामजियावन सरोज को खादी ग्रामोद्योग बोर्ड तथा हंसराज को ओडीओपी योजना अंतर्गत सहित यूनियन बैंक ऑफ इंडिया सेवापुरी के प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना के लाभार्थी एवम् ई कॉर्पोरेशन कछवा रोड शाखा, बैंक ऑफ बड़ौदा सेवापुरी के लाभार्थी को पीएमईजीएम के तहत ऋण वितरित किया गया। स्वयं सहायता समूह विकास खंड सेवापुरी को भी 47 लाख 11 हजार 05 सौ रुपए का डेमो चेक प्रदान किया गया। बैठक के बाद अफसरों ने गांधी आश्रम सेवापुरी में सोलर चरखा के द्वारा बनाए जा रहे धागा कार्य का स्थलीय निरीक्षण किया। शहर में आये अफसरों ने सेवापुरी विकासखंड के ग्राम सभा बेसहूपुर का स्थलीय निरीक्षण कर विकास कार्यो का स्थलीय जायजा लिया। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/राजेश-hindusthansamachar.in