वाराणसी : 14 निर्माणाधीन प्रमुख परियोजना माह के अंत में हो जायेगी पूर्ण, 29 बनकर तैयार

वाराणसी : 14 निर्माणाधीन प्रमुख परियोजना माह के अंत में हो जायेगी पूर्ण,  29 बनकर तैयार
varanasi-14-major-projects-under-construction-will-be-completed-by-the-end-of-the-month-29-are-ready

वाराणसी शहर के पार्किग स्थलों पर कमिश्नर ने ऐप बनाने का दिया सुझाव, रेट भी लिखा होगा वाराणसी, 11 जून (हि.स.)। कोरोना संक्रमण की रफ्तार थमने पर जिला प्रशासन ने शहर में चल रही विकास परियोजनाओं के गति बढ़ाने पर खासा जोर दिया है। शुक्रवार को कमिश्नरी सभागार में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने निर्माणाधीन प्रमुख परियोजनाओं के प्रगति की समीक्षा की। समीक्षा में बताया गया कि कुल 29 कार्य पूर्ण हो चुके हैं, 14 कार्य इसी माह पूर्ण हो जाएंगे। शेष कार्य इसी वर्ष जुलाई, सितंबर एवं अक्टूबर माह तक पूर्ण होंगे। मात्र 6-7 कार्य ऐसे हैं जो मार्च, 2022 तक पूर्ण होंगे। बैठक में कमिश्नर ने सुझाव दिया कि नगर निगम शहर की पार्किंग स्थलों पर एक ऐप तैयार कर जन सामान्य के लिए इसे लोकार्पित कर दे। जिसमें शहर की समस्त सरकारी, गैर सरकारी, सार्वजनिक पार्किंग स्थलों को समाहित करें। ताकि कोई व्यक्ति शहर में जाता है तो उसे ऐप के माध्यम से निकट के वाहन पार्किंग का पता हो सके। ऐप में पार्किंग के रेट भी दिए जाए। समीक्षा के दौरान गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई के कार्यों में धीमी गति पर तथा कार्यों को पूर्ण करने हेतु बार-बार समय अवधि बढ़ाने पर कमिश्नर ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए इनके चीफ इंजीनियर के विरुद्ध कार्यवाही हेतु शासन को लिखने का निर्देश दिया। बैठक में बताया गया कि इस वर्ष जनपद में वृहद वृक्षारोपण के तहत 18 लाख पौधे लगेंगे। गंगा में चलने वाली 92 नावें सीएनजी में बदली गई है। बैठक में कमिश्नर ने परियोजनाओं की कार्यदाई संस्थाएं एनएचएआई, सीपीडब्ल्यूडी, ब्रिज कारपोरेशन, पीडब्ल्यूडी, यूपी सिडको, राजकीय निर्माण निगम, यूपीपीसीएल, सीएण्डडीएस, आवास विकास, गंगा प्रदूषण निर्माण इकाई जल निगम, स्मार्ट सिटी आदि को निर्देशित किया कि कार्यों में युद्ध स्तर पर कार्य कराएं। सुरक्षा मानकों का हर स्तर पर ध्यान रखें। बैठक में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, वीसी वीडीए ईशा दुहन, नगर आयुक्त गौरांग राठी सहित विभिन्न विभागों एवं कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी एवं अभियंता भी मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर