वाराणसी : गोमती नदी में नहाते समय पांच महिलाएं डूबी, तीन को ग्रामीणों ने बचाया
वाराणसी : गोमती नदी में नहाते समय पांच महिलाएं डूबी, तीन को ग्रामीणों ने बचाया
उत्तर-प्रदेश

वाराणसी : गोमती नदी में नहाते समय पांच महिलाएं डूबी, तीन को ग्रामीणों ने बचाया

news

- दो महिलाओं की तलाश में गोताखोर जुटे, परिजन के दशवां पर जलांजलि देने गई थी महिलाएं,चौबेपुर धरहरा में हादसा वाराणसी, 30 जुलाई (हि.स.)। चौबेपुर थाना क्षेत्र के धौरहरा गांव में गुरुवार को गोमती नदी में नहाने के दौरान पांच महिलाएं डूब गईं। यह देख वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह तीन महिलाओं को तो बचा लिया। दो अन्य महिलाएं पानी के तेज धारा में बह गई। सूचना पाते ही मौके पर महिलाओं के परिजनों के साथ पुलिस भी पहुंच गई। घटना से महिलाओं के परिवार में कोहराम मच गया। महिलाओं के रूदन और चित्कार से पूरा गांव गमगीन हो गया। सूत्रों ने बताया कि धौरहरा गांव के निवासी बद्री राजभर की बीते दिनों मौत हो गई। आज परिजन उनका दसवां मना रहे थे। परम्परानुसार घर परिवार की महिलाओं के साथ नातेदार महिलाएं भी गोमती नदी में दसवां पर स्नान करने के साथ (मृतक को जलांजलि) देने गई थी। घाट पर नहाते समय ही नदी की तेज धारा में रेखा राजभर(40), सपना राजभर(20), अंजू(19), श्वेता(14) और संजना(18) बहने के साथ डूब गई। यह देख साथ आई महिलाओं ने शोर मचाया तो मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने साहस का परिचय देकर अंजू, संजना और श्वेता को तो बचा लिया गया। लेकिन रेखा और सपना पानी की तेज धारा में बह गई। सूचना पर मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष संजय त्रिपाठी ने तत्काल गोताखोरों को बुलवाया। और रेखा और सपना की तलाश शुरू कराया। गोताखोर नावों की मदद से दोनों की तलाश में जुटे रहे। हादसे में बचाई गई अंजू और श्वेता की हालत खराब देख परिजनों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती करा दिया। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/राजेश-hindusthansamachar.in