उप्र : परिवार की जिम्मेदारियों के साथ समाज सेवा में भी जुटी वैश्य समाज की महिलाएं - मंत्री नन्दी

उप्र : परिवार की जिम्मेदारियों के साथ समाज सेवा में भी जुटी वैश्य समाज की महिलाएं - मंत्री नन्दी
up-women-of-vaishya-community-engaged-in-social-service-along-with-family-responsibilities---minister-nandi

मंत्री नन्दी ने वैश्य समाज की महिला पदाधिकारियों से किया वर्चुअल संवाद प्रयागराज, 22 मई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने आज वैश्य समाज महिला उत्तर प्रदेश से जुड़ी पश्चिमी उत्तर की महिला पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल संवाद किया। जिसमें उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में पूरे मनोयोग के साथ होम आइसोलेशन में रह रहे और अस्पतालों में भर्ती मरीजों की सेवा में तत्पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश की महिलाओं द्वारा किए जा रहे सेवा कार्यों की सराहना की। मंत्री नन्दी की अध्यक्षता में आयोजित वर्चुअल संवाद में गाजियाबाद, नोएडा, मेरठ, रामपुर, मुरादाबाद, बिजनौर, संभल, सहारनपुर, बुलंदशहर, शामली जनपद से वैश्य समाज महिला से जुड़ी महिलाएं शामिल हुईं। जो इस कोविड काल में घर परिवार की जिम्मेदारियों का निर्वहन करने के साथ ही समाज सेवा में भी जुटी हुई है। वैश्य समाज महिला की प्रदेश अध्यक्ष लीना सिंघल ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश में वैश्य समाज की महिलाएं इस संक्रमण काल में अपने सामाजिक दायित्वों का क्षमतानुसार बखूबी निर्वहन कर रही हैं। उन्होंने मंत्री नन्दी को बताया कि पिछले दिनों बिजनौर में ऑक्सीजन प्लांट प्रशासन की मदद से चालू कराया गया, जिसकी वजह से सैकड़ों लोगों की जान बच सकी। मुरादाबाद, शामली, संभलपुर की महिला पदाधिकारियों ने बताया कि कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए होम आइसोलेशन में रह रहे जरूरतमंद लोगों तक भोजन, दवा आदि सेवाएं पहुंचाई जा रही हैं। महिला पदाधिकारियों ने कहा कि कोविड संक्रमण कम होने के बाद अगर कोई महिला व्यवसाय करना चाहती है तो उन्हें प्रमोट किया जाए। शामली और सम्भल में टीचर्स व व्यापारियों की समस्याओं से अवगत कराया। मंत्री नन्दी ने परिवार के साथ ही समाज सेवा के कार्य में जुटी वैश्य समाज महिला से जु़ड़ी महिलाओं के कार्यों की सराहना की। कहा कि प्रदेश सरकार के सक्रियता से ही आज कोरोना संक्रमण पूरी तरह से कंट्रोल में है। डब्ल्यूएचओ ने भी उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयास की सराहना की है। वहीं महाराष्ट्र हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को कोरोना संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए योगी मॉडल को अपनाने का सुझाव दिया है। वर्चुअल बैठक में प्रदेश प्रभारी अजय गोयल, प्रदेश अध्यक्ष लीना सिंघल, डॉ. रचना अग्रवाल, कल्पना गर्ग, रमा गुप्ता, सकुंजवाला अग्रवाल, शीनू गुप्ता, अर्चना कंसल, शालिनी अग्रवाल, पूजा गुप्ता, सोनल, नीरा अग्रवाल, चारू गोयल, शालू गर्ग, कृष्णा गर्ग, पूनम गुप्ता, कुमुद अग्रवाल, श्रद्धा अग्रवाल आदि शामिल रहीं। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त

अन्य खबरें

No stories found.