यूपी एसटीएफ ने गांजा तस्कर गिरोह के सरगना को पकड़ा, दो करोड़ का माल जब्त

यूपी एसटीएफ ने गांजा तस्कर गिरोह के सरगना को पकड़ा, दो करोड़ का माल जब्त
up-stf-arrested-gangster-smuggler-gang-seized-goods-worth-rs-2-crore

लखनऊ, 13 मई (हि.स.)। यूपी एसटीएफ ने गुरुवार को अन्तरराज्यीय स्तर पर अवैध मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह के सरगना को गिरफ्तार किया है। उसके पास से पुलिस को दो किलोग्राम स्मैक बरामद हुई है, जिसकी कीमत अन्तरराष्ट्रीय बाजार में करीब दो करोड़ रुपये है। एसटीएफ के पुलिस उपाधीक्षक अमित कुमार नागर ने बताया कि अन्तरराज्यीय स्तर पर अवैध मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गिरोह के कुछ सदस्य झालावाड, राजस्थान से अवैध मादक पदार्थ लेकर बरेली, लखनऊ होते हुए बाराबंकी आते-जाते है। इस सूचना को गंभीरता से लेते हुए प्रभारी निरीक्षक दिलीप तिवारी के नेतृत्व में टीम को लगाया गया। इसी दौरान एसटीएफ टीम को सूचना प्राप्त हुई कि अवैध मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह का सरगना मो. सलमान राजस्थान से कार में अवैध मादक पदार्थ लेकर लखनऊ के रास्ते जनपद बाराबंकी जा रहा है। इसके बाद एसटीएफ ने कृष्णानगर थाना क्षेत्र स्थित लोकबंधु अस्पताल के पास घेराबंदी करके कार सवार सलमान को दबोच लिया। तलाशी के दौरान कार से अवैध मादक पदार्थ (स्मैक) बरामद हुआ। पूछताछ में उसने बताया कि वह जनपद में मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले संगठित गैंग का सरगना है। उसके इस काम में जैतपुर निवासी शादाब, रशौली निवासी मो. जमालू, पल्हरी निवासी मो. गुलाम और भनौली निवासी सज्जन उसका साथ देते हैं। वह लोग एक संगठित गिरोह बनाकर आठ साल से तस्करी कर रह हैं। उसने बताया कि पंचायत चुनाव में उसकी हार हो गई है, जिसमें लगभग 15 से 20 लाख रुपये खर्च हो गये है। पूर्णबंदी के दौरान माल की अच्छी खपत होने के कारण वह शर्मा नमा के व्यक्ति से स्मैक लेने के लिए राजस्थान चला गया था। वो माल को अपने गिरोह के अन्य सदस्यों के जरिये अफीम, डोडा व गांजा की भी तस्करी व्यापक रूप से हरियाणा, पंजाब एवं पश्चिमी उप्र के कई जिलो मे संचालित किया जाता है। उसके खिलाफ सफदरगंज थाने में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा भी दर्ज है। आरोपित को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्रवाई के लिए कृष्णानगर थाना पुलिस के सुपुर्द किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक

अन्य खबरें

No stories found.